तुनिषा पर धर्म परिवर्तन एवं हिजाब पहनने के लिए दबाव डालता था शीजान

43

मुंबई। Tunisha Sharma Death Case: तुनिषा शर्माआत्महत्या मामले में हर दिन नए खुलासे हो रहे हैं। पुलिस के अनुसार उसके आत्महत्या से पहले शीजान ने सेट पर तुनिषा को थप्पड़ मारा था। वह उस पर धर्म परिवर्तन और हिजाब पहनने के लिए भी दबाव डालता था

शीजान को वसई कोर्ट में पेश किया गया। पुलिस ने दो दिन की कस्टडी मांगी थी लेकिन कोर्ट ने एक दिन यानी 31 दिसम्बर तक के लिए ही पुलिस कस्टडी बढ़ाई। इस बीच मामले में शीजान की हिरासत बढ़ाने के लिए पुलिस ने कोर्ट में कई दलीलें दी हैं। पुलिस ने बताया कि शीजान से ब्रेकअप के बाद तुनिषा डिप्रेशन से जूझ रही थीं। दोनों के ब्रेकअप को 15 दिन हो गए थे। वो साथ में ही सेट पर काम कर रहे थे। ऐसे में तुनिषा के लिए शीजान के साथ काम करना आसान नहीं था और वह खुद को संभाल नहीं पाईं।

पुलिस ने यह भी बताया कि शीजान खान ऐसा दिखाने की कोशिश करता था कि वह उसकी बहुत देखभाल करता है। उसके कई दूसरी महिलाओं से भी संबंध थे जिस वजह से तुनिषा आत्महत्या करने पर मजबूर हुई। पुलिस ने कोर्ट में आगे बताया कि ‘यह अपराध गंभीर प्रकृति का है और इसे लेकर समाज में नाराजगी है इसलिए इसकी तुरंत जांच की आवश्यकता है।‘

पुलिस ने कोर्ट में तुनिषा और शीजान के बीच हुई बातचीत की रिपोर्ट सौंपी। तुनिषा ने मौत से कुछ समय पहले शीजान से बात की थी। दोनों की बातचीत के बाद जैसे ही शीजान शूटिंग के लिए सेट पर जाने लगा वह पीछे-पीछे गेट तक गई लेकिन फिर अपने कमरे में लौट आईं, जहां उन्होंने अपना मोबाइल फोन रखा और शीजान के मेकअप रूम में चली गईं। पुलिस ने सेट से सीसीटीवी फुटेज भी देखे हैं। पुलिस ने शीजान पर सीधे तौर पर जवाब नहीं देने का आरोप लगाया है।

तुनिषा पर हिजाब पहनने के लिए दबाव
इससे पहले गुरुवार को पुलिस ने बताया कि शीजान ने सेट पर तुनिषा को थप्पड़ मारा था। वह ब्रेकअप के बाद उसे अनदेखा कर रहा था। पुलिस ने यह भी उल्लेख किया कि वह तुनिषा को उर्दू सिखाता था। वह उस पर धर्म परिवर्तन और हिजाब पहनने के लिए भी दबाव डालता था।

24 दिसंबर को लगाई फांसी
तुनिषा और शीजान सोनी सब पर प्रसारित टीवी सीरियल ‘अली बाबा: दास्तान ए काबुल‘ में साथ काम करते थे। दोनों शो के लीड एक्टर थे। 24 दिसंबर को तुनिषा ने शीजान के मेकअप रूम में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। तुनिषा की मां ने शीजान के खिलाफ पुलिस में शिकायत दी जिसके बाद शीजान को गिरफ्तार कर लिया गया।