लगातार 8वें माह GST कलेक्शन 1 लाख करोड़ के पार, लेकिन अप्रैल से कम

0
403

नई दिल्ली। शनिवार को वित्त मंत्रालय की तरफ से जारी किए गए आंकड़ो के अनुसार मई में जीएसटी कलेक्शन एक बार फिर एक लाख करोड़ के ऊपर रहा। लगातार आठवीं बार जीएसटी कलेक्शन एक लाख करोड़ से अधिक हुआ। ताजा आंकड़ो के अनुसार पिछ्ले महीने में 1,02,709 करोड़ रुपये का कलेक्शन हुआ। जोकि अप्रैल के मुकाबले कम है।

अप्रैल 2021 में 1,41,384 करोड़ रुपये जीएसटी कलेक्शन हुआ था, जबकि मई 2021 में 1,02,709 करोड़ रुपए रहा, जो कि 38,675 करोड़ रुपये कम है। कोरोना की दूसरी लहर की वजह से देश के अलग-अलग हिस्सों में पाबंदियां लगा दी गई थी। जिसका असर मई के जीएसटी कलेक्शन पर भी दिखाई दे रहा है। पिछले साल मई 2020 की तुलना में तो अधिक है। मई 2020 में 62,009 करोड़ ही जीएसटी प्राप्त हुआ था।

जारी प्रेस रीलीज के मुताबिक इस बार 1,02,709 करोड़ रुपये जीएसटी के रूप में मिले, जिसमें सीजीएसटी 17,592 करोड़, एसजीएसटी 22,653 करोड़ रुपये और IGST 53,199 करोड़ (माल के आयात पर एकत्र किए गए 29,599 करोड़ रुपये सहित) रुपये और सेस 9,265 करोड़ (माल के आयात पर एकत्र 868 करोड़ रुपये सहित) है। पिछले साल की तुलना में इस साल मई में जीएसटी कलेक्शन 65% से अधिक रहा है।

आंकड़े घरेलू लेनदेन पर चार जून तक जीएसटी संग्रह के हैं। कोविड-19 की दूसरी लहर की वजह से करदाताओं को मई में 15 दिन की देरी से रिटर्न दाखिल करने पर ब्याज में छूट/कटौती के रूप में राहत दी गई है। मंत्रालय ने कहा कि कई राज्यों में सख्त लॉकडाउन के बावजूद संग्रह का आंकड़ा एक लाख करोड़ रुपये से अधिक रहा है।