राजस्थान बजट में किसानों पर मेहरबान हुए गहलोत

0
100

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को विधानसभा में राज्य का पहला पेपरलेस बजट पेश किया। गहलोत ने किसानों पर मेहरबान होते हुए अगले साल से अलग से कृषि बजट पेश करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि अलग-अलग जगहों पर मिनी फूड पार्क बनाए जाएंगे। किसानों को आधुनिक सेवाएं दी जाएंगी। अगले तीन सालों में एक हजार किसान सेवा केंद्र बनाए जाएंगे। इसके अलावा 50,000 किसानों को सोलर पंप दिया जाएगा। 

आम लोगों को राहत पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस बार बजट में स्पेशल कोविड पैकेज का एलान किया। साथ ही इस पैकेज के तहत कोरोना से प्रभावित लोगों को आर्थिक मदद दी जाएगी। यही नहीं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रोजगार के लिए 50,000 रुपये तक का ब्याज मुक्त लोन देने की भी घोषणा की। यही नहीं राज्य में इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना भी शुरू की जाएगी।

उन्होंने कहा कि कोरोना ने अर्थव्यवस्था को झकझोर कर रख दिया इसलिये वर्ष के दौरान अधिक वित्तीय संसाधन जुटाने का प्रयास किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ‘राइट टू हेल्थ’ विधेयक लाएगी और अगले साल 3,500 करोड़ रुपये की लागत से सार्वभौमिक स्वास्थ्य सुविधा (यूनिवर्सल हेल्थ केयर) लागू करेंगे जिसमें हर परिवार को पांच लाख रुपये तक का स्वास्थ्य बीमा कवर उपलब्ध हो सकेगा।

इसके अलावा अशोक गहलोत ने एलान किया कि युवाओं को राज्य सरकार के विभिन्न मंत्रालय में इंटर्नशिप कराई जाएगी। इसमें करीब दो लाख युवाओं को लाभ मिलेगा। राज्य के हर ब्लॉक में स्टेडियम बनाया जाएगा। इसके अलावा प्रतियोगी परीक्षा में भाग लेने वाले बच्चों को बस में मुफ्त सफर करवाया जाएगा।

स्वास्थ्य और शिक्षा में बडे एलान
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एलान किया कि राज्य के 25 जिला मुख्यालयों पर चरणबद्ध तरीके से नर्सिंग महाविद्यालय स्थापित करना शामिल है। इसके अलावा राज्य में महात्मा गांधी के नाम पर बनाए गए शांति कोष को बढ़ाया जाएगा। वहीं राज्य में मूक-बधियों के लिए दो नए विश्व विद्यालय बनाए जाएंगे। 

राज्य में 50 करोड़ की लागत से राष्ट्रीय कार्डियोलॉजी सेंटर की स्थापना होगी। जयपुर में टेक्नोलॉजी सेंटर बनाए जाएंगे, यहां आधुनिक तकनीकी की शिक्षा दी जाएगी। इसके अलावा नासा की मदद से बच्चों को विज्ञान के क्षेत्र में सीख दी जाएगी। उदयपुर में योग के लिए कॉलेज खोले जाएंगे। इसके अलावा घायल लोगों को अस्पताल पहुंचाने पर पांच हजार रुपये की राशि दी जाएगी। 

गहलोत ने विपक्ष की चुटकी ली
बजट भाषण के दौरान गहलोत ने विपक्ष की चुटकी भी ली। उन्होंने कहा- मैं सात बार पानी पी चुका हूं। वसुंधरा राजे ने जब बजट पेश किया था उस वक्त एक बार भी पानी नहीं पीया था। यह बड़ी बात है। मैं पानी पी पीकर आपको कोस नहीं रहा हूं। मेरा दिल तो पक्ष-विपक्ष के लिए प्रेम से भरा है। राजे का बिना पानी पीए बोलना बड़ी बात थी। आप याद रखो या न रखो। मुझे अब तक याद है। गहलोत ने कहा- प्लीज दिल्ली को समझाओ, नफरत, गुस्से से देश नहीं चला करते।

फ्री वाई-फाई की घोषणा
शिक्षा के क्षेत्र में अशोक गहलोत ने एलान किया कि राज्य के सभी राजकीय विद्यालयों में स्मार्ट टीवी और सेटटॉप बॉक्स लगाए जाएंगे। राज्य के सभी विश्व विद्यालयों में मुफ्त वाई-फाई दिया जाएगा।