भारत में लघु उद्योगों की स्थापना में सिडबी का योगदान सराहनीय: आईजी खमेसरा

292

कोटा। सिडबी (SIDBI) एवं दी एसएसआई एसोसिएशन द्वारा शुक्रवार को पुरुषार्थ भवन में टेक्नोलॉजी एक्जीबिशन (Technology Exhibition) एवं वेंडर मीट (Vendor Meet) का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि आईजी प्रसन्ना कुमार खमेसरा (Prasanna Kumar Khamesara) थे।

इस अवसर पर एसोसिएशन के संस्थापक अध्यक्ष गोविंद राम मित्तल ने कहा कि सिडबी द्वारा बिना किसी चार्ज के यहां के लघु उद्योगों में करायी गयी वार्षिक ऑडिट प्रशंसनीय है। सिडबी की रिपोर्ट के आधार पर उद्यमी एनर्जी खपत कम कर अपने उत्पाद की लागत कम कर सकता है। इस कदम से पर्यावरण को भी लाभ मिलेगा। सिडबी के टेक्नोलॉजी पार्टनर्स द्वारा प्रदर्शित उत्पादों को भी उद्यमियों ने बहुत सराहा।

आईजी खमेसरा ने भारत में लघु उद्योगों की स्थापना में सिडबी के योगदान को सराहा। सिडबी द्वारा दिये गये आसान लोन्स के वजह से बहुत से नये लघु उद्योग भारत में लग पाये, जिनका देश की तरक़्क़ी में बहुत बड़ा हाथ है। उन्होंने एसोसिएशन को भी लघु उद्योगों के हित में काम करने वाली अग्रणी संस्था बताया एवं काम की सराहना की।

सिडबी के इम्प्लीमेंटेशन पार्टनर टेक्निकल एंड मैनेजमेंट कंसल्टेंसी सेंटर (TMCC) के सीईओ राकेश येचो द्वारा सभी अतिथियों का स्वागत किया गया। साथ ही कोटा में किए गये एनर्जी ऑडिट के कार्यों के बारे में विस्तृत जानकारी दी। इस मौके पर सिडबी के अधिकतर वेंडर्स द्वारा एनर्जी सेविंग उत्पादों का डिस्प्ले किया गया व उनके उद्योगो के उपयोग के लिए प्रेजेंटेशन दिया गया।

कार्यक्रम में अध्यक्ष अमित सिंघल एवं पूर्व अध्यक्ष विपिन सूद, मनीष माहेश्वरी, डायरेक्टर्स अभिनव गोयल, डॉ. आरबी गुप्ता,अनुज माहेश्वरी, जितेंद्र फ़तनानी, अनीश बिरला आदि उद्यमी मौजूद रहे ।