होम लोन की ब्याज दरों में कटौती को लेकर बैंकों में छिड़ी जंग

896

मुंबई।अक्टूबर में होम लोन की मांग में तेजी से बैंकों के बीच ब्याज दरों को लेकर जंग छिड़ गई है। निजी क्षेत्र का कोटक महिंद्रा बैंक (Kotak Mahindra Bank) 6.75 फीसदी पर होम लोन दे रहा है। बैंक ने एक महीने के भीतर दूसरी बार होम लोन की ब्याज दर में कटौती की है। कई बैंक 6.8 फीसदी से 7 फीसदी ब्याज पर होम लोन दे रहे हैं। इससे ब्याज दरों और सरकारी बॉन्ड में केवल 80 आधार अंक अंतर रह गया है।

बैंकों का कहना है कि होम लोन सुरक्षित दांव है और यह एकमात्र सेगमेंट है जो दहाई अंकों में बढ़ रहा है। कोरोना काल में कई कंपनियों के कर्मचारी घर से काम (Work from home) कर रहे हैं जिससे मांग बढ़ी है। इसके अलावा बिल्डर कई तरह की छूट दे रहे हैं, स्टांप ड्यूटी रेट में कमी की गई है और ब्याज दरें अब तक के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गई हैं। बैंक जिस तरह बार-बार ब्याज दरों में बदलाव कर रहे हैं, उससे साफ संकेत हैं कि उनके ब्याज दरों में कटौती को लेकर होड़ मची है।

बड़ा घर चाहते हैं लोग
कोटक महिंद्रा की ग्रुप प्रेजिडेंट (कंज्यूमर बैंकिंग) शांति एकमबरम ने कहा कि वर्क फ्रॉम होम के कारण हाउसिंग की मांग बढ़ रही है क्योंकि लोग बड़ा घर चाहते हैं। साथ ही डेवलपर और राज्य सरकारें भी खरीदारों को अतिरिक्त इनसेंटिव दे रही हैं। पीएनबी के एमडी और सीईओ एस एस मल्लिकार्जुन राव ने कहा कि होम लोन में तेजी आ रही है और यह कोविड-19 के पहले के स्तर पर जा रहा है। क्रेडिट में तेजी में होम लोन की अहम भूमिका रही है और यह करीब 10 फीसदी की रफ्तार से बढ़ा है। सालाना आधार पर इसमें 84,000 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी हुई है।

एचडीएफसी ने अक्टूबर में अपना अब तक का दूसरा सबसे अधिक होम लोन वितरण किया। बैंक के लिए मुंबई में सबसे अधिक मांग रही। उसके बाद दिल्ली और बेंगलूरु में सबसे अधिक मांग रही। हैदराबाद और चेन्नई में मांग थोड़ा कम रही। एचडीएफसी के वीसी और सीईओ केकी मिस्त्री ने कहा, जो मांग हम देख रहे हैं उसमें से अधिकांश ट्रांजैक्शन कोविड के बाद शुरू किया गया था और यह पेंट-अप डिमांड नहीं है।

बैंकों की होम लोन दरें
एकमबरम ने कहा कि हाउसिंग की मांग में तेजी बैंक के लिए एक अच्छा मौका है। बैंक अब तक होम लोन देने वाले पांच शीर्ष बैंकों में शामिल नहीं है। बैंक सैलरीड लोगों के लिए 6.75 फीसदी ब्याज दर पर होम लोन दे रहा है। अपना रोजगार कर रहे लोगों के लिए यह दर 6.85 फीसदी है। बैंक ऑफ बड़ौदा की होम लोन की दर 6.85 फीसदी, आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी और एसबीआई (वाया योनो) की 6.9 फीसदी तथा यूनियन बैंक की दर 6.95 फीसदी है।