पेटीएम ऐप पर नहीं, पेटीएम पेमेंट्स बैंक पर हुई कार्रवाई, रिजर्व बैंक ने किया स्पष्ट

58

नई दिल्ली। देश के सबसे बड़े ऑनलाइन पेमेंट प्लेटफॉर्म पेटीएम के जरिए डिजिटल लेनदेन करने वाले ग्राहकों के लिए राहत की खबर है। भारतीय रिजर्व बैंक ने आज यह स्पष्ट किया है कि केंद्रीय बैंक की तरफ से की गई कार्रवाई पेटीएम पेमेंट्स बैंक पर हुई है। पेटीएम ऐप पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है। पेटीएम के पेमेंट ऐप पर इसका कोई असर नहीं होगा। रिजर्व बैंक ने यह भी कहा है कि अगर कोई अन्य बैंक पेटीएम के साथ जुड़ना चाहता है तो यह उसका व्यावसायिक फैसला होगा। जो बैंक चाहे वह पेटीएम के साथ मिलकर काम कर सकता है।

आरबीआई के डिप्टी गर्वनर स्वामीनाथन जे ने मौद्रिक और ऋण नीति जारी होने के बाद पत्रकारों से कहा, ‘पेटीएम बैंक के विरुद्ध कार्रवाई हुई है न कि पेटीएम ऐप के।’ उन्होंने कहा कि पेटीएम ऐप आरबीआई की कार्रवाई से प्रभावित नहीं होगा। रिजर्व बैंक की तरफ से आया यह बयान पेटीएम ऐप इस्तेमाल करने वाले ग्राहकों के कई भ्रम दूर करेगा। पिछले सप्ताह ही रिजर्व बैंक की तरफ से पेटीएम पेमेंट्स बैंक और डिजिटल वॉलेट पर नए ग्राहक लेने पर रोक लगा दी गई थी। इसके बाद से पेटीएम ग्राहकों के बीच यह भ्रम उत्पन्न हो गया था कि इस रोक से वे पेटीएम ऐप का इस्तेमाल भी नहीं कर पाएंगे।

कंपनी ने क्या कहा: पेटीएम की तरफ से भी स्पष्ट किया जा चुका है कि पेटीएम बैंक पर लगी रोक ऐप के इस्तेमाल को प्रभावित नहीं करेगी। यूपीआई के माध्यम से होने वाले लेनदेन से लेकर उन सभी सुविधाओं का इस्तेमाल ग्राहक कर सकते हैं जिनमें पेटीएम बैंक की भागीदारी नहीं है। आरबीआई के डिप्टी गवर्नर स्वामीनाथन ने स्पष्ट किया कि यदि कोई अन्य बैंक पेटीएम ऐप के साथ जुड़ना चाहता है तो यह उसका व्यावसायिक निर्णय होगा। पेटीएम के प्रवक्ता ने कहा कि हम अपने ग्राहकों और व्यापारिक भागीदारों को आश्वस्त करते हैं कि पेटीएम ऐप पूरी तरह से चालू रहेगा और हमारी सेवाएं अप्रभावित रहेंगी।