कोटा कर्मचारी सहकारी समिति की आम सभा 2 अक्टूबर को, 20% मिलेगा लाभांश

110

बाऊजी के सपने को पूरा कर रही है मीनू बिरला: राजेशकृष्ण बिरला

कोटा। कोटा कर्मचारी सहकारी समिति लिमिटेड 108 की आम सभा 2 अक्टूबर को आयोजित की जाएगी। आम सभा में सदस्यों को 20 प्रतिशत लाभांश की घोषणा एवं 51 वरिष्ठ सदस्यों का सम्मान और आई चेकअप कैम्प का आयोजन भी किया जाएगा।

समिति अध्यक्ष डॉ. मीनू बिरला ने शुक्रवार को पत्रकारों को बताया कि संस्था की 103वीं आमसभा में मुख्य अतिथि लोक सभा स्पीकर ओमकृष्ण बिरला होंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता स्वायत शासन मंत्री शांतिकुमार धारीवाल करेंगे। विशिष्ठ अतिथि रेडक्रॉस सोसायटी के स्टेट चेयरमैन राजेश कृष्ण बिरला, विधायक संदीप शर्मा, विधायक कल्पना देवी, महापौर राजीव अग्रवाल भारती, पुलिस महानिरीक्षक कोटा रेंज प्रसन्न कुमार खमेसरा, कलेक्टर ओमप्रकाश बुनकर, कोटा जिला सहकारी उपभोक्ता भण्डार के अध्यक्ष हरिकृष्ण बिरला, श्री हितकारी विद्यालय सहकारी समिति की अध्यक्ष सूरज बिरला, कोटा महिला नागरिक सहकारी बैंक की अध्यक्ष मंजू बिरला होंगी।

सचिव विमल जैन ने बताया कि 103वीं आमसभा सोमवार को प्रात 11 बजे बालाजी मार्केट रंगवाडी रोड स्थित नगर विकास न्यास ओडिटोरियम में आयोजित की जाएगी। इस अवसर पर सभा नम्बर 108 के पूर्व अध्यक्ष सहकार नेता व समाजसेवी श्रीकृष्ण बिरला की तृतीय पुण्यतिथि पर उन्हे श्रृद्धासुमन अर्पित किए गए और संस्था में उनके सहयोग व कार्यो को याद किया गया।

कोटा नागरिक सहकारी बैंक के अध्यक्ष राजेश कृष्ण बिरला ने इस मौके पर कहा कि कर्मचारी नेता सहकारिता मनीषी स्व. श्रीकृष्ण बिरला ने अपना जीवन कर्मचारी सहकारी समिति को समर्पित कर दिया। वह सदैव कर्मचारियों के हितों व संघर्ष के लिए प्रत्यनशील रहे। उनके प्रयास से कोटा कर्मचारी सहकारी समिति वटवृक्ष बन पाई।

बिरला का किया स्वागत
इंडियन रेडक्रॉस सोसायटी के स्टेट चेयरमैन बनने एवं कोटा नागरिक सहकारी बैंक के निर्विरोध अध्यक्ष बनने पर राजेश कृष्ण बिरला का सम्मान किया गया। अध्यक्ष मीनू बिरला एवं सचिव विमल जैन ने कहा कि राजेश कृष्ण बिरला ने जिस संस्था की बागडोर संभाली वहीं संस्था विकास के नए सौपान पर चढ़ी है। सहकारिता में राजेश कृष्ण बिरला की दूरदृष्टि एवं विकासोन्मुख कार्यशाली से संस्थाएं लाभ में होती हैं। सदस्यों को उसका पूरा फायदा मिलता है। उपाध्यक्ष रास बिहारी ने कहा कि सहकारिता में संस्थाओं को आगे बढाने व प्रगति के रथ पर लाने में राजेश कृष्ण बिरला के अथक प्रयास रहे है। हंसा त्यागी ने कहा कि बिरला ने संस्था के भवन निर्माण को भी प्राथमिकता दी है कोटा रेडक्रॉस का भवन इसका उदाहरण है।

51 वरिष्ठ सदस्यों का होगा सम्मान
उपाध्यक्ष रासबिहारी पारीक ने बताया कि सोमवार को आमसभा 2 सत्रों में आयोजित की जावेगी। प्रथम सत्र में सम्मान समारोह आयोजित किया जावेगा एवं द्वितीय सत्र में समिति की गतिविधियों को सदस्यों के सामने पेश किया जावेगा। आमसभा में गत अधिवेशन की कार्यवाही का वाचन एवं पुष्टि, अंकेक्षक रिपोर्ट का अनुमोदन भी किया जावेगा। कार्यक्रम का प्रारम्भ सरस्वती वंदना से होगा, जिसमें मुख्य अतिथि व विशिष्ट अतिथि झंडारोहण करेगें। बालिकाओं द्वारा सहकार गान व स्वागत गान का वाचन भी किया जावेगा। आयोजित आमसभा में समिति की ओर से वरिष्ठ 51 सदस्यों को मुख्य अतिथि द्वारा सम्मानित किया जावेगा। आमसभा में निशुल्क आई चेकअप केम्प का आयोजन भी किया जाएगा।

डॉ. मीनू बिरला बाउजी के पदचिन्हों पर
कोटा नागरिक सहकारी बैंक अध्यक्ष राजेश कृष्ण बिरला ने कहा कि समिति की अध्यक्ष डॉ. मीनू बिरला बाउजी के पदचिन्हों पर पर चल रही हैं। उन्होने संस्था का कार्य बखूबी संभाला है। संस्था के कोष व आमदनी में बढोतरी दर्ज की गई है। 103 वर्ष पुरानी संस्था निरन्तर उन्नति की ओर अग्रसर है। समिति के वर्तमान में 5073 सदस्य हैं। डॉ मीनू बिरला के कार्यकाल में संस्था के कोष में 1.04 करोड़, अमानतों में 5.64 करोड़ तथा हिस्सा राशि में 59 लाख रुपये की बढोतरी दर्ज की गई है।

नहीं है 1 रुपये का एनपीए
अध्यक्ष डाॅ. मीनू बिरला ने बताया कि संस्था अपने 103 साल पूरे करने जा रही है। 100 साल पुरानी संस्था में एक भी रुपये का एनपीए ना होना एक मिसाल है । अन्य किसी सहकारी संस्था में ऐसा देखने को नही मिलाता है। मीनू बिरला ने कहा कि संस्था समिति ने मकान निर्माण हेतु हजारों सदस्यों को ऋण वितरित कर उनके आशियाने के सपने को साकार किया है। समिति की कार्यशील पूॅंजी 183.77 करोड़ रुपये है, कोष 6.52 करोड़ रुपये एवं जमा हिस्सा 7.40 करोड़ रुपये तथा अमानतें 166.16 करोड़ रुपये है। उन्होंने बताया कि वित्तिय वर्ष 2022-23 में समिति की ओर से 18 49 करोड़ रुपये के ऋण वितरित किये गये हैं। गुरूवार को आयोजित बोर्ड बैठक में 16 सदस्यों को 1.50 करोड़ रुपये के ऋण भवन निर्माण एवं अन्य कार्यो हेतु स्वीकृत किये गये । उन्होने बताया कि वर्ष 1920 से स्थापित संस्था में आज तक 1 रुपये का एनपीए नहीं है।

बोर्ड बैठक में यह रहे उपस्थित
बोर्ड बैठक में अध्यक्ष डाॅ. मीनू बिरला, उपाध्यक्ष रासबिहारी पारीक, सचिव विमलचन्द जैन, महिला संचालक हंसा त्यागी, निदेशक सूर्यकान्त शर्मा, कर्ण सिंह हाडा, दिनेश पनवाड, डाॅ. विनोद पंकज, मुकुट बिहारी, ओमप्रकाश शर्मा सहित समिति के कई कर्मचारी भी उपस्थित रहे।