सेंसेक्स 37 अंक सुधर कर 60,298 और निफ्टी 17,956 पर बंद

39

मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में बृहस्पतिवार को भी तेजी का सिलसिला जारी रहा और बीएसई सेंसेक्स 37.87 अंक और चढ़ गया। सेंसेक्स में लगातार पांचवें कारोबारी सत्र में लाभ रहा। कारोबारियों के अनुसार, डॉलर के मुकाबले रुपये की विनिमय दर में गिरावट तथा कच्चे तेल के दाम में तेजी से शेयर बाजार में बढ़त पर अंकुश लगा।

उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में कमजोर खुला लेकिन अंत में 37.87 अंक यानी 0.06 प्रतिशत की बढ़त के साथ 60,298 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान ऊंचे में यह 60,341.41 अंक तक गया और नीचे में 59,946.44 अंक तक आया।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 12.25 अंक यानी 0.07 प्रतिशत की बढ़त के साथ 17,956.50 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी में यह लगातार आठवें दिन तेजी है।एचडीएफसी सिक्योरिटीज के खुदरा शोध प्रमुख दीपक जसानी ने कहा, ‘‘निफ्टी में बृहस्पतिवार की तेजी के साथ लगातार आठवें दिन मजबूती रही। बीस महीने में यह पहला मौका है जब निफ्टी में इतने दिन तक लगातार तेजी है। निफ्टी नीचे खुला और इसमें उतार-चढ़ाव बना रहा। अंत में यह मामूली लाभ के साथ बंद हुआ।’’

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख वी के विजय कुमार ने कहा, ‘‘फेडरल रिजर्व (अमेरिकी केंद्रीय बैंक) की बैठक के ब्योरे से पता चलता है कि वह नीतिगत मोर्चे पर आक्रमक रुख बरकरार रखेगा और इससे अमेरिकी बाजार पर कुछ असर पड़ सकता है। लेकिन विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) की लिवाली को देखते हुए इसका भारत में तेजी के रुख पर असर पड़ने की आशंका नहीं है…।’’

सेंसेक्स के शेयरों में से कोटक महिंद्रा बैंक सबसे ज्यादा 3.45 प्रतिशत चढ़ा। इसके अलावा लार्सन एंड टुब्रो, भारती एयरटेल, अल्ट्राटेक सीमेंट, पावरग्रिड, इंडसइंड बैंक और भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) में भी तेजी रही।

दूसरी तरफ नुकसान में रहने वाले शेयरों में डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज, विप्रो, इन्फोसिस, महिंद्रा एंड महिंद्रा, एक्सिस बैंक और नेस्ले इंडिया शामिल हैं। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध लिवाल रहे। उन्होंने बुधवार को 2,347.22 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे।