रियल एस्टेट ग्रुप के 37 से ज्यादा ठिकानों पर छापे में 70 करोड़ की काली कमाई उजागर

34

जयपुर/कोटा। जयपुर और कोटा में रियल एस्टेट, होटल, कंस्ट्रक्शन, ज्वेलरी और हॉर्टिकल्चर कारोबारियों के यहां तीन दिन से आयकर विभाग की छापेमारी जारी है। बुधवार से शुरू हुई कारवाई अब तक चल रही है। अनुमान लगाया जा रहा है कि आईटी विभाग की यह कार्रवाई रविवार तक चल सकती है।

अब तक की जांच में आईटी टीम को 4 करोड़ कैश, ज्वेलरी और लेन-देन के डॉक्यूमेंट IT विभाग के हाथ लगे हैं। कई बैंकों में इन कारोबारियों के करीब 24 लॉकर्स भी मिले हैं। अब तक 70 करोड़ से अधिक की काली कमाई का खुलासा हो चुका है।

इनकम टैक्स विभाग ने प्रमोद कोटावाला, आलोक कोटावाला, आशीष अग्रवाल, भीमाराम पन्नालाल, कमलेश जैन और इनके करीबियों 37 से ज्यादा ठिकानों पर बुधवार को छापा मारा था। इनकम टैक्स और पुलिस के 200 से ज्यादा कर्मचारी-अधिकारी छापामार कार्रवाई में शामिल हैं।

आशीष ग्रुप कॉलोनाइजर और रियल एस्टेट के कारोबार से जुड़ा हुआ है। आईटी विभाग को पता चला है कि इस ग्रुप ने कोटा और जयपुर में जमीनों की खरीद और फ्लैट बेचने में गड़बड़ी की है। इसके अलावा भी कई तरह की गड़बड़ियां सामने आईं है। जिसके जरिए टैक्स चोरी की गई है।

बताया जा रहा है कि आईटी विभाग की टीम छापामारी में मिले दस्तावेजों की जांच कर रही है। साथ ही यहां काम करने वाले कर्मचारियों से पूछताछ भी की जा रही है। टीम को जयपुर कोटा के अलावा कारोबारियों के दिल्ली और मुंबई में भी ठिकानों की जानकारी लगी है। ऐसे संभावना जताई जा रही है कि जल्द ही आईटी विभाग की टीम यहां भी छापा मार सकती है।

बेटी की शादी में करोड़ों किए थे खर्च : आईटी विभाग ने जिन कारोबारियों के यहां छापा मारा है, वह सभी बड़े नाम हैं। आलोक कोटावाला का रियल एस्टेट और ज्वेलरी बड़ा कारोबार है। 2016 में उन्होंने अपनी बेटी की शादी में करोड़ों रुपया खर्च किया था। जिसके बाद से कोटावाला आईटी विभाग के रडार पर थे। उन्होंने अपनी बेटी सांजली की शादी बैंकॉक के दूसरे सबसे अमीर, इंडोरामा कार्पोरेशन समूह के प्रकाश लोहिया के भतीजे और आलोक लोहिया के बेटे यशवर्धन लोहिया से की है।

उदयपुर के उदयविलास होटल में हुई यह शादी देश की टॉप 10 शादियों में से एक मानी जाती है। इस शादी में देश और विदेश के कई कलाकार भी शामिल हुए थे। शादी में कितने रुपये खर्च किए गए थे इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि यहां, इस्तांबुल थीम पर स्पेशल आइस स्टेज बनाया था। न्यूजीलैंड की एक इवेंट कंपनी ने शादी की प्लानिंग की थी। इटली से शेफ और इजरायल से कैटरिंग को बुलाया गया था। इस शादी में हुईं सारी रश्मों के लिए भी विशेष प्लानिंग की गई थी।

आशीष ग्रुप का बड़ा नाम : आशीष ग्रुप के मालिकों के यहं भी आईटी विभाग की रेड जारी है। आशीष ग्रुप का रियल एस्टेट में बड़ा नाम है। इसके जयपुर और कोटा में स्थित ठिकानों पर विभाग की टीम ने छापा मारा है। अब तक की कारईवाई में टैक्स चोरी के कई दस्तावेज के टीम के हाथ लगे हैं। इस ग्रुप ने जयपुर और कोटा में कई मल्टी स्टोरी बिल्डिंग बनाकर लोगों को फ्लैट बेचे हैं। ऐसे में विभाग की टीम यह जानने का प्रयास कर रही है कि बिल्डिंग बनाने के लिए इतना पैसा कहां से आया था।