कोटा नागरिक सहकारी बैंक के नेट एनपीए में गिरावट दर्ज: राजेश बिरला

79

ऋण कमेटी की बैठक में 86 सदस्यों का 613.65 लाख का कर्ज मंजूर

कोटा। कोटा नागरिक सहकारी बैंक लि.की ऋण कमेटी की बैठक बुधवार को बैंक के प्रधान कार्यालय में सम्पन्न हुई। बैठक की अध्यक्ष बैंक चैयरमेन राजेश कृष्ण बिरला ने की। प्रबंध निदेशक बिजेन्द्र कुमार शर्मा ने बताया कि बैठक में संचालकगण महेन्द्र शर्मा, सुरेश काबरा, नवनीत जाजू, राकेश कुमार जैन, अशोक कुमार मीणा आदि उपस्थित रहे।

बैंक चेयरमैन राजेशकृष्ण बिरला ने बताया कि ऋण कमेटी की बैठक में 86 सदस्यों के 613.65 लाख रुपये के ऋण स्वीकृत किए गए। बिरला ने बताया कि बोम व संचालक मण्डल की बैठक में भारतीय रिजर्व बैंक से प्राप्त रिपोर्ट पर चर्चा की गई। प्रबंध निदेशक बैंक बिजेन्द्र कुमार शर्मा ने बताया कि स्टाफ़ के रोटेशन व एनपीए सहित कई मुद्दो पर चर्चा की गई।

बैंक के एनपीए में सुधार
बैंक अध्यक्ष राजेश कृष्ण बिरला ने कहा कि बैंक निरंतर कोटा की जनता के सहयोग से प्रगति के रथ पर सवार है। कोरोना काल में भी बैंक ने अपनी प्रगति दर्ज की थी। बैंक मुनाफे में लोग नियमित होकर अपने ऋणो का भुगतान कर रहे है। बैंक के परिचालन में अधिकारियों व कर्मचारियों के सक्रिय सहयोग से बैंक प्रगति कर रहा है।

नेट एनपीए में गिरावट दर्ज
बिरला ने बताया कि बैंक कहा कि बैक को नई ऊंचाई देने के लिए सभी संचालक एवं अधिकारी/कर्मचारी कटिबद्ध हैं। बैंक ने अपने गत माह के नेट एनपीए में गिरावट दर्ज की है। बैंक का दिसम्बर माह का नेट एनपीए 3.60 प्रतिशत था जो जनवरी में 3.21 रह गया। उन्होंने कहा कि यह जनता का बैंक है। कोटा की जनता की हर समस्या व परेशानी में बैंक सदस्यों के साथ होता है। उन्हें जब भी ऋण की आवश्यकता होती है तो बैंक उनके साथ खडा रहता है। ऐसे में ऋणधारको को समय पर अपनी किस्त जमाकरा कर एनपीए मुक्त बैंक बनाने में अपना योगदान करना चाहिए और बैंक के शुद्ध लाभों वृद्धि करनी चाहिए