जीएसटी काउंसिल की बैठक शुरू, एसी रेस्त्रां पर टैक्स घटाने का विचार

0
9

गुवाहाटी/पटना। जीएसटी काउंसिल की दो दिवसीय बैठक गुरुवार शाम को शुरू हो गई। बैठक के फैसलों के बारे में औपचारिक रूप से शुक्रवार को बताया जाएगा। केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली भी शुक्रवार को ही इसमें भाग लेंगे।

हालांकि बैठक में जाने से पहले बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने बताया कि आम इस्तेमाल की करीब 200 वस्तुओं पर टैक्स रेट 28% से घटाकर 18% किया जा सकता है। मोदी जीएसटी काउंसिल के मेंबर और जीएसटी नेटवर्क में सुधार के लिए बनी समिति के भी अध्यक्ष हैं। काउंसिल की यह 23वीं बैठक है।

मोदी ने बताया कि वह एचएसएन कोड, इनवॉयस मैचिंग और रिटर्न फाइलिंग से जुड़े नियमों को आसान करने की मांग रखेंगे। उनकी अन्य मांगों में सभी कारोबारियों के लिए तिमाही रिटर्न फाइलिंग, रिटर्न में देरी पर जुर्माना 200 रुपए प्रतिदिन से घटाकर 50 रुपए करना और जीएसटी में एमआरपी को शामिल करना शामिल हैं।

सूत्रों के मुताबिक काउंसिल असम के वित्त मंत्री हेमंत बिस्वा शर्मा की अध्यक्षता वाले मंत्री समूह की सिफारिशों पर भी विचार करेगी। मंत्री समूह ने एसी रेस्त्रां पर टैक्स 18% से घटाकर 12% करने की सिफारिश की है। फाइव स्टार समेत सभी होटलों में 7,500 रुपए से ज्यादा टैरिफ पर 18% टैक्स का सुझाव दिया गया है।

आसान हो सकते हैं कंपोजीशन के नियम, टैक्स भी घटेगा
असमके वित्त मंत्री हेमंत बिस्वा शर्मा की अध्यक्षता वाले मंत्री समूह ने कंपोजीशन स्कीम वाले सभी कारोबारियों पर 1% टैक्स और उन्हें दूसरे राज्यों में सप्लाई की इजाजत देने का सुझाव दिया है।

ट्रेडर्स के लिए अलग सुझाव है कि जो टर्नओवर में टैक्सेबल-नॉन टैक्सेबल दोनों वस्तुओं को शामिल करते हैं, उनपर 0.5% टैक्स लगे। अभी कंपोजीशन वाले ट्रेडर के लिए टर्नओवर का 1%, मैन्युफैक्चरर के लिए 2% और रेस्त्रां के लिए 5% टैक्स का प्रावधान है।

इन पर टैक्स 28% से घटाकर 18% किया जा सकता है
सैनिटरीके सामान, सूटकेस, वाल पेपर, प्लाईवुड, स्टेशनरी सामान, घड़ियां, खेल के सामान, शैंपू, हैंडमेड फर्नीचर, इलेक्ट्रिक स्विच, प्लास्टिक गुड्स।