सौंफ का पानी पीने से कई बीमारियां हो सकती हैं ठीक, जानिए कैसे

0
453

डॉ. सुधींद्र श्रृंगी (MD Ayurveda )
नई दिल्ली।
हमारे किचन में पाए जाने वाले सबसे कॉमन मसालों में से एक है सौंफ जिसे ज्यादातर लोग खाना खाने के बाद भोजन पचाने के लिए या फिर माउथ फ्रेशनर के तौर पर इस्तेमाल करते हैं। हरे रंग के सौंफ (Fennel Seeds) के ये छोटे-छोटे दाने औषधीय गुणों से भरपूर होते हैं और ये हमारी सेहत के लिए कितने फायदेमंद हैं।

जब आप ये जानेंगे तो रोजाना इनका इस्तेमाल जरूर करेंगे। पोटैशियम, मैग्नीज, जिंक, आयरन और कॉपर जैसे मिनरल्स से भरपूर सौंफ को कच्चा खाने या फिर सब्जी या करी में डालने की बजाए अगर आप सौंफ का पानी (Fennel Seeds Water) पिएं तो यह आपके लिए ज्यादा फायदेमंद हो सकता है। इसका कारण ये है कि सौंफ के पानी में न्यूट्रिएंट्स की मात्रा अधिक होती है।

कैसे बनाएं सौंफ का पानी
सौंफ का पानी 2 तरीके से बनाया जा सकता है

  • 1 गिलास पानी में 1 चम्मच सौंफ डालें और उसे रातभर भिगोकर रखें. सुबह इस पानी को छानकर पी लें।
  • एक पैन में 1 गिलास पानी उबालें और जब वह उबल जाए तो गैस बंद कर दें. अब इस पानी में 1 चम्मच सौंफ डालें और कुछ देर के लिए ढककर रखें. सौंफ का पानी तैयार है।

रोजाना 2 से 3 बार पिएं
इसे सौंफ को पाचन के लिए वैसे ही अच्‍छा माना जाता है. दूध के साथ इसका कॉम्बिनेशन और भी फायदेमंद साबित है. इससे कब्ज और एसिडिटी से भी छुटकारा मिल सकता है।

सौंफ वाला दूध पीने के हैं कई फायदे
जी हां, सौंफ का दूध (Fennel And Milk) के साथ ये गुणकारी मिलाप सेहत को कई फायदे देता है। रात में साने से पहले सौंफ वाला दूध पीने से पाचन भी अच्‍छा होता है और यह कई बीमारियों से भी बचाता है। यह दूध स्‍वादिष्‍ट भी लगता है।

  • मोटापा दूर भगाता है- रोजाना सुबह खाली पेट सौंफ का पानी पीने से मोटापे (Obesity) की समस्या दूर होती है। इसका कारण ये है कि सौंफ का पानी पीने से भूख कम लगती है, मेटाबॉलिज्म की दर तेज हो जाती है जिससे कैलोरीज और फैट को तेजी से बर्न करने में मदद मिलती है। साथ ही सौंफ में मौजूद फाइबर वजन घटाने में मदद करता है।
  • खून साफ करता है- सौंफ में मौजूद इसेंशियल ऑयल शरीर में मौजूद हानिकारक टॉक्सिन्स यानी विषाक्त पदार्थों को शरीर से बाहर निकालकर खून को साफ (Blood Purify) करने में मदद करता है। सौंफ का पानी डाइयूरेटिक होता है यानी इसे पीने के बाद बार-बार पेशाब लगती है, जिससे शरीर में मौजूद अशुद्धियों को बाहर निकालकर शरीर को अंदर से साफ यानी डीटॉक्स करने में मदद मिलती है।
  • आंखों की रोशनी के लिए- सौंफ के पानी में विटामिन ए के साथ ही एंटीऑक्सिडेंट्स और कई तरह के न्यूट्रिएंट्स पाए जाते हैं जो आंखों की रोशनी बढ़ाने के साथ ही आंखों को हेल्दी रखता है और साथ ही उम्र बढ़ने पर होने वाली बीमारी मोतियाबिंद को भी रोकने में मदद करता है।
  • ब्लड प्रेशर के लिए- पोटैशियम से भरपूर सौंफ का पानी शरीर के ब्लड प्रेशर के साथ ही हार्ट रेट को भी रेग्युलेट करने में मदद करता है। इसलिए जिन मरीजों को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है वे भी सौंफ का पानी पी सकते हैं।
  • पीरियड्स पेन कम करने के लिए- पीरियड्स के दौरान बहुत सी महिलाओं को तेज दर्द और क्रैम्प्स की समस्या का सामना करना पड़ता है। ऐसे में अगर आप सौंफ का पानी पिएं तो मासिक धर्म के कारण होने वाले पेट दर्द में भी राहत मिलती है और अनियमित पीरियड्स की समस्या भी धीरे-धीरे दूर हो जाती है।