इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली कंपनी ‘टेस्ला’ की भारत में एंट्री, बंगलौर में बनेंगी कारें

0
183

नई दिल्ली। दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स और दिग्गज कारोबारी एलन मस्क की इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली कंपनी ‘टेस्ला’ की भारत में एंट्री हो गई है। उसने टेस्ला इंडिया मोटर्स ऐंड एनर्जी प्राइवेट लिमिटेड (Tesla India Motors and Energy Pvt Ltd with RoC Bangalore) नाम से रजिस्ट्रेशन कराया है। कंपनी यहां लग्जरी इलेक्ट्रिक कारों का निर्माण और कारोबार करेगी। टेस्ला ने पहला ऑफिस बेंगलुरु में पंजीकृत किया गया है। वह बेंगलुरु में एक रिसर्च एंड डेवलपमेंट यूनिट के साथ अपना परिचालन शुरू करेगी।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने टेस्ला का स्वागत किया है। कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय के अनुसार, टेस्ला 8 जनवरी को बेंगलुरु में पंजीकृत हुई है। इसका रजिस्ट्रेशन नंबर 142975 है। वैभव तनेजा, वेंकटरंगम श्रीराम और डेविड जॉन फेंस्टीन इसके निदेशक हैं। तनेजा टेस्ला में CFO हैं, जबकि फेंस्टीन टेस्ला में ग्लोबल सीनियर डायरेक्टर, ट्रेड मार्केट एक्सेस हैं। कंपनी भारत में मॉडल 3 को लॉन्च कर सकती है। साल की पहली तिमाही के अंत में डिलीवरी शुरू हो सकती है।

मस्क ने ट्विटर पर किया था ऐलान
टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने पिछले वर्ष अक्टूबर में एक ट्वीट में कहा था कि उनकी कंपनी 2021 में भारतीय बाजार में प्रवेश करेगी। मस्क ने एक ट्वीट के जवाब में कहा था कि निश्चित रूप से उनकी कंपनी अगले साल भारत में दस्तक देगी।

नितिन गडकरी ने की थी पुष्टि
केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने दिसंबर में इसकी पुष्टि करते हुए कहा था कि टेस्ला अगले साल भारत में अपना परिचालन शुरू करेगी। कंपनी भारत में मांग के आधार पर विनिर्माण इकाई लगाने की संभावना तलाशेगी। गडकरी ने कहा, ‘अमेरिका की वाहन क्षेत्र की दिग्ग्ज कंपनी टेस्ला अगले साल से भारत में अपनी कारों के लिए वितरण केंद्र खोलेगी। मांग के आधार पर कंपनी यहां अपना विनिर्माण कारखाना लगाने पर भी विचार करेगी। भारत में अगले पांच साल में दुनिया का सबसे बड़ा इलेक्ट्रिक वाहन उत्पादक बनने की क्षमता है।’

साल 2020 में 36 प्रतिशत बढ़ी टेस्ला की बिक्री
टेस्ला की वार्षिक बिक्री में 2020 में 36 फीसदी की बढ़ोतरी हुई। हालांकि, कंपनी पांच लाख वाहनों की डिलिवरी के वार्षिक लक्ष्य से पीछे रह गई। कंपनी ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि उसने 2020 में 499,500 वाहनों की डिलिवरी की। इनमें अक्टूबर से दिसंबर के दौरान 180,570 स्पोर्ट्स यूटिलिटी व्हीकल (एसयूवी) और सेडान की डिलिवरी शामिल है। टेस्ला के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) एलन मस्क ने कोरोना वायरस महामारी का प्रकोप शुरू होने से पहले 2020 में पांच लाख वाहनों की डिलिवरी का लक्ष्य रखा था।