भागलपुर के सुल्तानगंज में सुशांत के नाम पर बनेगी फिल्म सिटी

0
156

पटना। बिहार में सुशांत सिंह राजपूत के प्रति समर्थन की जबरदस्त लहर है। ताजा खबर यह है कि प्रदेश की धर्म नगरी सुल्तानगंज में सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर फिल्म सिटी का निर्माण होगा। यह निर्माण भारतीय सबलोग पार्टी करेगी, जिसका शिलान्यास सोमवार को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व सांसद प्रो.अरुण कुमार करेंगे। यह उत्तर-पूर्व भारत की पहली फिल्म सिटी होगी। शिलान्यास के मौके पर पार्टी की प्रदेश अध्यक्ष रेणु कुशवाहा एवं पूर्व केंद्रीय विदेश एवं वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा सहित कई नेता उपस्थित रहेंगे।

पार्टी नेता रविसुमन कुमार उर्फ अरुण मंडल ने बताया कि शिलान्यास की सारी तैयारी पूरी कर ली गई है। फिल्म सिटी के निर्माण के दौरान क्षेत्र के हुनरमंदों एवं मजदूरों को रोजगार मिलेगा। निर्माण पूरा होने के बाद यहां के युवाओं को बड़ी संख्या में रोजगार मिलेगा। सभी वर्ग के बच्चे फिल्म सिटी में प्रशिक्षण प्राप्त कर बड़े कलाकार बने सकेंगे तथा अपनी प्रतिभा के अनुरूप अभिनय, नृत्य, गायन, निर्देशन आदि का प्रशिक्षण ले सकेंगे।

महाराष्ट्र पुलिस और बिहार पुलिस में ठनी
अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या को लेकर महाराष्ट्र पुलिस और बिहार पुलिस में ठन गई है। बिहार से लगातार आरोप लगाए जा रहे हैं कि मुंबई पुलिस जांच में सहयोग नहीं कर रही है। वहीं मुंबई पुलिस का कहना है कि बिहार पुलिस ठीक से जांच नहीं कर पा रही है। मुंबई पुलिस कमिश्नर के अनुसार, बिहार पुलिस को पहले जीरो एफआईआर दर्ज करना थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

बिहार विधानसभा में गूंजा मामला
इस बीच, मामला बिहार विधानसभा तक पहुंच गया है। इससे पहले बिहार से आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी केस की जांच करने के लिए मुंबई पहुंचे तो मुंबई महानगर पालिका ने उन्हें 14 दिन के लिए क्वारंटाइन कर दिया है। यानी अगले 14 दिन एसपी विनय तिवारी मुंबई में रहेंगे और जांच के लिए बाहर भी नहीं निकल सकेंगे। बीएमसी के इस कदम की बिहार में आलोचना हो रही है। कहा जा रहा है कि मुंबई पुलिस के इशारों पर ऐसा किया जा रहा है। बिहार पुलिस का आरोप है कि मुंबई पुलिस जांच में शुरू से सहयोग नहीं कर रही है। पूरे घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया देते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा, जो हुआ वो ठीक नहीं।

उच्च स्तरीय बैठक बुलाई
एसपी विनय तिवारी को क्वारंटाइन करना सरकारी कम में दखल माना जा रहा है। एसपी विनय तिवारी के मुताबिक, उन्होंने इस घटनाक्रम की जानकारी बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे को दी। डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे के अनुसार, पूरे मामले को लेकर उन्होंने उच्च स्तरीय बैठक बुलाई है।