रीट परीक्षा-2022: सारा इंतजाम सरकारी कार्मिकों के हाथ में ही रहेगा

39

जयपुर। राजस्थान में 23 और 24 जुलाई को होने वाली रीट परीक्षा-2022 की तैयारियों को लेकर शनिवार को मुख्य सचिव उषा शर्मा की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक आयोजित की गई। परीक्षा के लिए लगभग 17 लाख परिक्षार्थी पंजीकृत हुए हैं।

इस अवसर पर मुख्य सचिव ने कहा कि रीट परीक्षा- 2022 के सफल आयोजन के लिए परीक्षा व्यवस्था, प्रश्न पत्रों, ओएमआर शीट, परीक्षा केन्द्रों, स्ट्रॉन्ग रूम, संग्रहण केेन्द्रों की सुरक्षा व्यवस्था उच्च स्तरीय होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि परीक्षा आयोजन के हर स्तर पर केवल सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों को ही नियोजित किया जाए और सारी सुरक्षा व्यवस्थाएं चुनावों में की जाने वाली व्यवस्था के समान हो।

जिला मुख्यालयों पर आयोजित होगी परीक्षा
मुख्य सचिव ने कहा कि इस बार रीट परीक्षा का आयोजन जिला मुख्यालयों पर ही करवाया जाएगा। साथ ही पूरी परीक्षा व्यवस्था के दौरान केवल सरकारी कार्मिकों को ही नियोजित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि परीक्षा केन्द्र के लिए इस बार सरकारी भवनों को प्राथमिकता दी गई है। इसके अतिरिक्त उन्हीं परीक्षा केन्द्रों का चुनाव किया जाएगा जहां राजस्थान लोक सेवा आयोग एवं संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षाएं पूर्व में आयोजित हो चुकी हैं।

संग्रहण केन्द्रों की कड़ी हो सुरक्षा व्यवस्था
मुख्य सचिव ने जिला कलेक्टरों व पुलिस अधीक्षकों को निर्देशित किया कि प्रश्न पत्रों के लिए स्ट्रांग रूम व संग्रहण केन्द्रों पर 24 घंटे सीसीटीवी व सुरक्षाकर्मियों से कड़ी निगरानी रखी जाए। उन्होंने परीक्षा केन्द्रो और प्रत्येक परीक्षा कक्ष की सीसीटीवी से मॉनिटरिंग किए जाने के निर्देश भी दिए। साथ ही सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत करने के लिए वीडियोग्राफी करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार चुनावों के दौरान सुरक्षा व्यवस्था की जाती है, वैसी ही व्यवस्था रीट परीक्षा में करवाई जाए। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन परीक्षा के सफल आयोजन के लिए सभी व्यवस्थाएं पहले ही सुनिश्चित कर लें।

आवागमन की हो उपयुक्त व्यवस्था
मुख्य सचिव ने कहा कि परीक्षार्थियों को अन्तर-जिला व अंतर्राज्यीय आवागमन में कोई असुविधा नहीं होनी चाहिए। साथ ही रेलवे स्टेशनों व बस स्टैडों पर भी सुरक्षा की पूरी व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस बार परीक्षा केन्द्रों को जिला मुख्यालय की सीमा में ही रखे जाने से परीक्षार्थियों को आवागमन में समस्याएं नही आएंगी।

बैठक में स्कूल शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पवन गोयल ने बताया कि परीक्षा के सफल संचालन के लिए जिला स्तर पर जिला परीक्षा संचालन समिति का गठन किया गया है। उन्होंने परीक्षा में नियोजित पर्यवेक्षकों और अन्य स्टॉफ के समुचित प्रशिक्षण पर जोर दिया। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने प्रशासक श्री लक्ष्मीनारायण मंत्री ने कहा कि रीट परीक्षा का सफल आयोजन बोर्ड की जिम्मेदारी है और बोर्ड इसके लिए प्रतिबद्ध है।

परीक्षा 4 शिफ्टों में होगी
उल्लेखनीय है कि प्रदेश में रीट परीक्षा-2022 का आयोजन 23 और 24 जुलाई को किया जाएगा। इस बार यह परीक्षा 4 शिफ्टों में होगी। 23 जुलाई को पहली शिफ्ट में लेवल-1 की परीक्षा और शेष तीनों शिफ्टों मे लेवल-2 की परीक्षा आयोजित की जाएगी। परीक्षा के लिए लगभग 17 लाख परिक्षार्थी पंजीकृत हुए हैं।

बैठक में तकनीकी एवं उच्च शिक्षा के शासन सचिव भवानी सिंह देथा, गृह विभाग के शासन सचिव वी.सरवन कुमार, अतिरिक्त महानिदेशक एटीएस एवं एसओजी अशोक राठौड़, एडीजी लॉ एण्ड ऑर्डर हवा सिंह घुमरिया सहित अन्य उच्चाधिकारी उपस्थित थे। सभी संभागीय आयुक्तों, जिला कलेक्टरों, पुलिस अधीक्षकों एवं अन्य अधिकारियों ने वीडियो कॉन्फ्रेन्स के माध्यम से आयोजित बैठक में भाग लिया।