मूडीज ने भारत की जीडीपी ग्रोथ का अनुमान 9.3 फीसदी किया

0
21

नई दिल्ली। रेटिंग एजेंसी मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस ने अपनी नई रिपोर्ट में भारतीय अर्थव्यवस्था के तेज गति से पटरी पर लौटने की बात कही है। रेटिंग एजेंसी ने वित्त वर्ष 2022 के लिए जीडीपी ग्रोथ अनुमान 9.3 फीसदी रहने की उम्मीद जताई है। जबकि वित्त वर्ष 2023 में देश की जीडीपी ग्रोथ 7.9 फीसदी रहने की बात कही है। रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में कोरोना टीकाकरण में तेज रफ्तार भारत की आर्थिक गतिविधियों में वापसी के लिए मददगार साबित होगी। 

मूडीज की एनालिस्ट श्वेता पटोदिया ने कहा कि भारत में कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान की तेज गति से आर्थिक विकास को गति मिल रही है। रिपोर्ट में कहा गया कि भारत में हाल ही में रिकॉर्ड टीकाकरण का लक्ष्य हासिल किया है। दूसरी लहर के बाद भारत में टीकाकरण कार्यक्रम की रफ्तार तेज हुई है। 

मूडीज ने जारी की गई अपनी इस रिपोर्ट में कोरोना की अगली लहर की आशंका पर भी अपनी बात रखी है। इसके कहा गया है कि हालांकि, अगर देश कोविड-19 की एक और लहर का सामना करना पड़ता है, तो कंज्यूमर सेंटिमेंट में गिरावट का खतरा पैदा होगा। इसके चलते आर्थिक गतिविधियों और मांग को झटका लग सकता है। 

निवेश बढ़ने के साथ बढ़ेगी अर्थव्यवस्था
देश की जीडीपी ग्रोथ अनुमान को 9.3 फीसदी करते हुए मूडीज ने कहा कि कोरोना के मामलों में कमी आने और टीकाकरण की रफ्तार बढ़ने से अर्थव्यवस्था पर सकारात्मक असर देखने को मिल रहा है। बढ़ती खपत, घरेलू विनिर्माण पर जोर और फंडिंग की बेहतर स्थिति से भी नए निवेश को समर्थन मिलेगा। इससे अर्थव्यवस्था तेज गति से वापसी करेगी।