समाज का विघटन रोकने के लिए चेतना लहर कार्यक्रम 17 मार्च को: राजेश बिरला

50

कोटा। माहेश्वरी समाज में बढ़ते विघटन व समाज के अंतिम व्यक्ति तक महासभा की योजनाओं की जानकारी तथा कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित करने के लिए 17 मार्च को चेतना लहर कार्यक्रम माहेश्वरी भवन झालावाड़ रोड पर आयोजित किया जाएगा।

पूर्व राजस्थान के प्रदेशाध्यक्ष महेशचंद अजमेरा ने बताया कि अखिल भारतीय माहेश्वरी महासभा के निर्देशानुसार कोटा में महासभा के उपसभापति पश्चिमांचल राजेश कृष्ण बिरला की अध्यक्षता में पूर्वी राजस्थान प्रादेशिक माहेश्वरी सभा की बैठक आयोजित की गई।

समाज की एकता व विघटन पर चिंता व्यक्त करते हुए उपसभापति राजेश कृष्ण बिरला ने कहा कि समाज की ताकत एकजुटता है। समाज की इकाइयों को एकजुट होकर समाज के अंतिम व्यक्ति तक अपनी मदद पहुंचाना चाहिए। बिरला ने संयुक्त परिवार की परम्परा, प्रतिभा पलायन, व्यवसाय से जुडने, समाज में बढते तलाक पर चिंता व्यक्त करते हुए समाज की एकता के लिए चेतना कार्यक्रम की घोषणा की है।

प्रदेश अध्यक्ष अजमेरा ने बताया कि लिए चेतना लहर कार्यक्रम से परिवार को टूटने से बचाया जा सकेगा। इस अवसर पर माहेश्वरी समाज के कर्मठ कार्यकर्ताओं का प्रशिक्षित भी किया जाएगा। ताकि वह महासभा की योजनाओं को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने मे अपनी भूमिका का निर्वहन कर सके। समारोह में अखिल भारतवर्षीय माहेश्वरी महासभा के सभापति पश्चिमांचल संदीप काबरा भी मौजूद रहेंगे।

पूर्वी राजस्थान प्रादेशिक माहेश्वरी के प्रदेश मंत्री आनन्द राठी ने बताया कि बैठक में कोटा ज़िला माहेश्वरी सभा के अध्यक्ष सुरेश चंद काबरा, आशा माहेश्वरी, पश्चिमांचल की उप सभापति मधु बाहेती, रितु मूदड़ा, महिला जिला अध्यक्ष प्रीति राठी, सचिव सरिता मोहता, पूर्वी राजस्थान प्रादेशिक माहेश्वरी युवा संगठन के प्रदेश अध्यक्ष अविनाश अजमेरा सहित कई पदाधिकारी उपस्थित रहे।