एयरपोर्ट अधिकारी पर रिश्वत का आरोप, कोटा से शुरू नहीं हो पा रही फ्लाइट

0
12

कोटा। विमान सेवा बंद होने के बाद सुप्रीम एयरलाइंस ने सोमवार को एसपी सिटी को दी शिकायत में एयरपोर्ट अधिकारी लोकेश निर्वाण पर रिश्वत मांगने का आरोप लगाते हुए एफआईअार की मांग की है। सीईओ अमित के अग्रवाल की शिकायत में कहा गया है कि निर्वाण ने 11 अप्रैल को कंपनी के भगवत प्रसाद से फ्लाइट संचालित करने के एवज में 10 लाख रुपए मांगे।

निर्वाण ने अगले दिन दोपहर 3:13 बजे फोन पर कहा-5 लाख रुपए एएआई के जीएम एटीएम एसके पुरवार तथा 5 लाख मेरे लिए मांग रहा हूं। 30 मिनट में पैसा नहीं दिया तो उड़ान की अनुमति नहीं देंगे। 3:56 बजे भी निर्वाण ने यही कहा। पैसे नहीं दिए तो अनुमति निरस्त कर दी।

क्लियरेंस के नाम पर रोकी थी फ्लाइट
चार दिन पहले कोटा से सुप्रीम एयरलाइंस की फ्लाइट बंद करने के बाद एयरपोर्ट अथॉरिटी (एएआई) के अधिकारी रविवार को ही बैकफुट पर आ गए। एएआई के जीएम एटीएम एसके पुरवार ने रविवार रात कोटा एयरपोर्ट प्रभारी को मेल किया और कहा कि सुप्रीम एयरलाइंस की क्लीयरेंस को लेकर सीएचक्यू (ऑपरेशन्स) के स्तर पर प्रक्रिया चल रही है, तब तक उन्हें उड़ान की अनुमति दे दी जाए। यही मेल एयरपोर्ट अधिकारी ने कंपनी को भी भेज दिया। लेकिन इसके बावजूद सोमवार को कोटा एयरपोर्ट पर फ्लाइट नहीं आई।

आरोप साबित करे कंपनी : निर्वाण
एयरपोर्ट अधिकारी लोकेश निर्वाण ने कहा कि यह मेरी और एएआई की छवि खराब करने का प्रयास है। यदि आरोप लगाया है तो उसे साबित करें, नहीं तो लीगल ऑप्शन मेरे लिए भी खुले हुए हैं। मेरी दो बार भगवत से बात हुई थी और मैंने सिर्फ इतना ही कहा था कि फ्लाइट बिफोर हो तो हमें सूचना जरूर दें।

यदि पैसा मांगा है तो उनसे रिकॉर्डिंग मांग लीजिए। वहीं, फ्लाइट बंद करना या दोबारा अनुमति देना मेरे स्तर का मामला है ही नहीं। जीएम के स्तर से पहले मेल आया कि बंद कर दीजिए तो मैंने उस मेल को कंपनी को भेजा, फिर से रविवार को जीएम ने मेल किया कि क्लीयरेंस का मामला सीएचक्यू स्तर पर चल रहा है, तब तक अनुमति दी जाए।

कार्रवाई के बाद ही शुरू करेंगे कोटा से फ्लाइट : कंपनी
कंपनी के वाइस प्रेसीडेंट आकाश अग्रवाल ने कहा कि जब से दिल्ली की फ्लाइट शुरू हुई, तब से एयरपोर्ट अधिकारी पैसा मांग रहे थे। पहले हम इसे गंभीरता से नहीं ले रहे थे, लेकिन बाद में जब कॉल करके ये ऑपरेशन बंद कराने की धमकियां देने लगे तो हम गंभीर हुए।

हम किस बात का पैसा दें, क्या कोई चोरी कर रहे हैं? रहा सवाल कोटा से फ्लाइट फिर से शुरू करने का तो हम करेंगे। लेकिन एक बात बताइए, दो दिन पहले इन्होंने उड़ान बंद कर दी, फिर अब अनुमति दे दी? इन लोगों का क्या भरोसा, ये कल फिर से बंद कर देंगे।

इन्हें पता नहीं कि इससे हमारी कंपनी का कितना नाम खराब हुआ और आर्थिक नुकसान हुआ। जब तक इनके खिलाफ कार्रवाई नहीं होती, हम कोटा से फ्लाइट शुरू नहीं कर पाएंगे। हां, एलन से हमारा कमिटमेंट है, उनके लिए 18 अप्रैल को स्पेशल फ्लाइट जरूर भिजवाएंगे।

मामले की जांच होगी
सुप्रीम एयरलाइन ने एक शिकायत भेजी है, जो जांच के लिए जवाहर नगर थानाधिकारी को दी है। मामले की जांच होगी, उसके बाद ही एफआईआर दर्ज कर सकते हैं। शिकायत में एयरपोर्ट अधिकारी पर 10 लाख रुपए मांगने का आरोप लगाया गया है। – अंशुमन भौमिया, एसपी सिटी