सहायता शिविर में 460 से अधिक दिव्यांगों को मिला जीने का सहारा

0
51

कोटा। रोटरी क्लब कोटा की ओर से आयोजित दिव्यांग सहायता शिविर के तीसरे दिन शहर के समाजसेवी एवं वरिष्ठ उद्यमी केम्प में पहुंचे। उन्होंने दिव्यांगो को शरीर सहायता उपकरण भेंट किए। शिविर के तीसरे दिन समाजसेवी अमित धारीवाल, वरिष्ठ उद्यमी गोविन्द राम मित्तल, डीसीएम के सीईओ वीके जेटली, राजकीय छोटी महारानी विद्यालय की प्रिसिंपल बीना राठौड़, आरटीयू की प्रो.मनीषा भण्डारी दिव्यांगो के लिए रोटरी क्लब का सेवा कार्य देख अभिभूत हुए।

समाजसेवी अमित धारीवाल ने कहा कि रोटरी क्लब के इस शिविर में दिव्यांगो को जयपुर फुट एवं जयपुर हैंड लगाए जा रहे हैं। वह भी महज कुछ ही घण्टों में। रोटरी के इस शिविर में यह अद्भुत है। क्योंकि ऐसे व्यक्तियों की संख्या भी सैकड़ो में है। यदि हम अपने कपड़ो की सीने का माप देते है तो दर्जी भी कुछ समय लेता है। परन्तु इस शिविर में श्री भगवान महावीर विकलांग सहायता समिति ने अद्भुत कार्य किया है और कुछ घण्टो में एक अशक्त को सशक्त बना दिया है।

गोविन्द राम मित्तल ने कहा कि रोटरी का यह बहुत ही प्रशंसनीय कार्य है। दिव्यांगो का जीवन कठिन होता है। ऐसे में हमें उनकी हर संभव मदद करनी चाहिए। रोटरी क्लब ने ना केवल उन्हे सम्बल प्रदान किया है, अपितु उनको जीने की नई हिम्मत भी दी है। इस शिविर से हजारों दिव्यांग लाभांवित हो रहे है। विभिन्न राज्यों से दिव्यांग कोटा आए है। ऐसे में कोटा के लिए भी यह शिविर गर्वित करने वाला है।

दिव्यांगो को सौपे सहायता उपकरण
शिविर के तीसरे दिन 460 से अधिक दिव्यांगों को जीवन यापन में सहायतार्थ उपकरण का वितरण किया गया। अध्यक्ष बीएल गुप्ता एवं सचिव लक्ष्मण सिंह खीची ने बताया कि शिविर रोटरी क्लब कोटा, श्री भगवान महावीर विकलांग सहायता समिति जयपुर एवं भारत सेवा संस्थान के सहयोग से कृत्रिम पैर-50, कृत्रिम हाथ-15, कैलीपर्स-40, बैसाखियां-70, सुनने की मशीन-160, व्हील चेयर-50, ट्राईसाइकिल-75 का वितरण हुआ।