1 सितंबर से बज सकती है स्कूलों की घंटी, जानिए सरकार की प्लानिंग

0
544

नई दिल्ली। कोरोना वायरस (coronavirus) के खिलाफ लड़ाई जारी रखते हुए अनलॉक के रूप में यथासंभव राहत भी दी जा रही है। हालांकि एक सवाल पूरे देश में बना हुआ है कि स्कूल कब खुलेंगे? इस बारे में केंद्र सरकार फैसला लेगी या राज्य ही तय करेंगे? बहरहाल, केंद्र सरकार के मिले ताजा संकेत इशारा कर रहे हैं कि 1 सितंबर 2020 से चरणबद्ध तरीके से स्कूल खोले जा सकते हैं।

जानकारी के मुताबिक, केंद्र सरकार ने तय किया है कि 1 सितंबर 2020 से 14 नवंबर तक चरणबद्ध तरीके में स्कूल कॉलेज खोल दिए जाएं। केंद्र सरकार 31 अगस्त कर इस संबंध में अपनी गाइडलाइन जारी कर देगी। इस बारे में आखिरी फैसला राज्य सरकारों का होगा।

मीडिया रिपोट्स के अनुसार, शुरुआत 10वीं और 12वीं की कक्षाओं से हो सकती है। पहले 15 दिन इन बच्चों को तय व्यवस्था के तहत स्कूल बुलाया जाएगा। व्यवस्था यह है कि यदि कक्षा 10 में चार सेक्शन हैं तो सेक्शन ए और सेक्शन सी के आधे बच्चे निर्धारित दिनों में आएंगे और बचे हुए दिनों में बचे हुए सेक्शन के आधे बच्चे आएंगे। स्कूल केवल 5 से 6 घंटे लगेंगे। इनमें से 2 या 3 घंटे तक ही बच्चों को क्लास में बैठना अनिवार्य किया जाएगा।

शिफ्ट में लगेंगे स्कूल
केंद्र सरकार द्वारा तैयार किए गए मसौदे के मुताबिक, स्कूल शिफ्ट में लगेंगे। पहली शिफ्ट सुबह 8 से 11 और दूसरी 12 से 3 बजे तक रहेगी। बीच में सेनिटाइजेशन के लिए 1 घंटे का ब्रेक रहेगा। स्कूलों से कहा जाएगा कि वे 33 फीसदी टीचिंग स्टाफ के साथ काम करें।
इस बारे में सबसे पहले असम सरकार की ओर से बयान आया था। असम सरकार ने कहा था कि वे 1 सितंबर से स्कूल खोलने को तैयार है, लेकिन पहले केंद्र सरकार की गाइडलाइन का इंतजार करेंगे। माना जा रहा है कि अन्य सरकारें भी राज्य सरकार की गाइडलाइन का इंतजार कर रही हैं।