राजस्थान / ATM उखाड़ कर भी बदमाश नहीं निकाल पाए नकदी, 45 लाख बचे

547

जोधपुर। तिंवरी कस्बे के मेन रोड पर सीनियर सैकंडरी स्कूल के सामने स्थित बैंक ऑफ बड़ोदा के एटीएम को शनिवार अलसुबह कुछ बदमाशों ने पहले तो जंजीर से बांधा और फिर एसयूवी कार से खींचकर उखाड़ लिया। बदमाशों ने इसमें से नकदी निकालने की काफी कोशिश की, लेकिन सफल नहीं हो पाए। इसके चलते एटीएम में भरी 45 लाख 20 हजार रुपए की नकदी बच गई।

पुलिस की प्रारंभिक पड़ताल में सीसीटीवी फुटेज से पता चला कि बदमाशों ने वारदात को अंजाम देने से करीब दो घंटे पहले इस जगह की रैकी भी की थी।सुबह कस्बे में मॉर्निंग वाॅक करते लोगों ने टूटा एटीएम देखा, तो पुलिस और बैंक के अधिकारियों को सूचना दी।

इसकी जानकारी मिलने पर एसीपी (मंडोर) राजेंद्र प्रसाद दिवाकर, मथानिया थानाधिकारी गौतम डोटासरा सहित अन्य अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और जिले में नाकाबंदी भी कराई, लेकिन बदमाशों का सुराग नहीं मिला। पुलिस अब फुटेज में नजर आ रहे बदमाशों की तलाश में जुटी है।

पुलिस की प्रारंभिक पड़ताल में सामने आया कि शुक्रवार देर रात बाद करीब एक बजे एक नकाबपोश बदमाश इस एटीएम पर आया था। उसने रैकी कर केबिन में पड़ी कुछ पर्चियां देखने का बहाना किया और वापस बाहर निकल गया। इसके करीब दो घंटे बाद 3:15 बजे एक पिकअप एटीएम के बाहर पहुंची। इसमें सवार बदमाशों ने मुंह पर कपड़े बांध रखे थे।

पिकअप को एटीएम की विपरीत दिशा में खड़ा करके इसमें से लोहे की जंजीरें निकाली। इन्हीं से एटीएम को बांधकर दूसरे हिस्से को पिकअप से जोड़ा। गाड़ी स्टार्ट कर एक ही झटके में एटीएम उखाड़ दिया। एटीएम मशीन, मॉनिटर के साथ इससे जुड़ा फर्नीचर, पंखे व कांच टूटकर बिखर गए।

ये पूरा घटनाक्रम एटीएम के भीतर और बाहर लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गया। टूटा एटीएम वहीं पर उल्टा गिर गया, तो बदमाशों ने कैश चैंबर ढूंढने की कोशिश कर तोड़ने की कोशिश भी की, लेकिन सफल नहीं हो पाए। मुख्य सड़क पर दूसरे वाहनों की आवाजाही होने लगी, तो बदमाश वहां से भाग निकले।