हाड़ौती को हरित, श्वेत और नील क्रांति का अग्रणी केंद्र बनाएंगेः बिरला

25

लोक सभा अध्यक्ष ने कोटा में किया दो दिवसीय कृषि महोत्सव का शुभारंभ

कोटा। लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला की पहल पर कोटा में मंगलवार को कृषि महोत्सव के रूप में हाड़ौती भर के किसानों को आर्थिक रूप से सशक्त और समृद्ध बनाने की बड़ी शुरूआत हुई।

कृषि महोत्सव का शुभारंभ करते हुए स्पीकर बिरला ने कहा कि हम भारत में हाड़ौती को हरित, श्वेत और नील क्रांति का अग्रणी केंद्र बनाएंगे। हम चाहते हैं कि हाड़ौती का किसान फसल और दुग्ध का उत्पादन करे, मछली पालन करे, फिर प्रसंस्करण और वैल्यू एडीशन के माध्यम अच्छी आय प्राप्त करे।

इसके लिए हम किसानों के साथ खड़े हैं। हम किसानों तक गुणवत्तापूर्ण बीज पहुंचाएंगे, नई तकनीक पहुंचाएंगे, हर वह जानकारी पहुंचाएंगे जो उन्हें कम भूमि और कम लागत पर अधिक उत्पादन और अधिक आय प्राप्त करने के लिए समर्थ बनाए। यह हमारा सपना है जो आज नहीं तो कल जरूर पूरा होगा।

कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि हाड़ौती में इतने बड़े आयोजन का श्रेय लोक सभा अध्यक्ष बिरला को जाता है। वे सदैव किसानों की चिंता करते हैं। उन्होंने कहा कि स्टार्टअप्स के माध्यम से हमारे युवा कृषि क्षेत्र की समस्याओं का समाधान खोज रहे हैं। उनके इन नवाचारों से किसानों की आय बढ़ेगी, इससे उनके घर में भी सम्पन्नता आएगी।

राजस्थान के कृषि एवं पशुपालन मंत्री लालचंद कटारिया ने कहा कि किसान कृषि के क्षेत्र में हो रहे नवाचार एवं स्टार्टअप को अपनाएंगे तो निश्चित रूप से कम लागत में अधिक उपज के साथ आधुनिक खेती का सपना साकार करेंगे। सहकारिता मंत्री उदय लाल आंजना ने कहा कि किसान की आमदनी में वृद्धि होगी तो निश्चित रूप से देश भी उन्नति करेगा। इस दौरान लोक सभा अध्यक्ष के ओएडी राजीव दत्ता भी मौजूद रहे।

नवाचारों को देखने का कौतूहल: कृषि महोत्सव में 75 से अधिक स्टार्टअप्स ने कृषि के क्षेत्र में अपने नवाचारों और नई तकनीकों को प्रस्तुत किया। इन्हें देखने और समझने के लिए स्टार्टअप्स के काउंटर्स पर दिन भी किसानों की भीड़ लगी रही। कई नई तकनीकें किसानों के लिए बिल्कुल नई थी, जिनको लेकर उनमें खासा कौतूहल दिखाई दिया। इस आयोजन के लिए लोक सभा अध्यक्ष बिरला का आभार जताते हुए किसानों ने कहा कि उनके प्रयास हाड़ौती के किसानों के जीवन में को एक नई दिशा देंगे।