फिल्म फेस्टिवल का समापन आज, 28 देशों की 160 फिल्में दिखाई जाएंगी

0
26

कोटा। शहर में आयोजित फिल्म फेस्टिवल का समापन रविवार को होगा । इसमें 28 देशों की 160 फिल्में दिखाई जाएंगी। पहले दिन हिन्दी से लेकर मराठी, जर्मन, इंग्लिश, फ्रेंच, चाइनीज, जापानी भाषाओं में बनी 16 देशों की 60 फिल्में दिखाई गईं। चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल की ओर से आयोजित इस कार्यक्रम में देशभर के फिल्म मेकर से लेकर एक्टर, प्रोड्यूसर सहित इनसे जुड़े लोगों और शहरवासियों ने भाग लिया।

फेस्टिवल के शुरुआत में जोश सेवन द्वारा निर्देशित फिल्म ब्लाइंड स्पाॅट फिल्म दिखाई गई। वहीं, डॉ. अनिर्बन घोष की फिल्म काइट, प्रीतम चौधरी की ग्रीक एंड लेटिन, ग्रीस की एरिनी पोलीडोराउ द्वारा निर्देशित फिल्म नो शुगर, भारत की जोन बेंडिक्ट जूलिस द्वारा निर्देशित फिल्म एन एप्पल सहित अन्य फिल्मों की दर्शकों ने सराहना की।

तीन सत्रों में फिल्मों का प्रदर्शन किया गया। पहले दिन 16 देशों की 60 मूवी स्क्रीनिंग देर रात तक जारी रही। आयोजक एवं फेस्टिवल डायरेक्टर कपिल सिद्धार्थ ने बताया कि इस समारोह में  रविवार को पुरस्कार वितरण समारोह आयोजित किया जाएगा। जिसमें बेस्ट फिल्म, बेस्ट एनिमेशन मूवी, डॉक्यूमेंट्री सहित अन्य अवार्ड से होंगे।

उन्होंने बताया कि कोटा में पहली बार हुए इस फेस्टीवल का मकसद फिल्म इंडस्ट्री में कोटा को खास पहचान दिलाना है। रविवार को यहां फिल्मों का प्रदर्शन और पुरस्कार वितरण होगा। समारोह में संगीतकार क्षितिज तारे अपने गीतकार सईद कादरी की प्रस्तुतियां होंगी।

फेस्टीवल के शुभारंभ पर यूआईटी चेयरमैन आरके मेहता ने फेस्टिवल में आए फिल्मों के निर्माता- निर्देशकों से आग्रह किया कि वे यहां के दर्शनीय स्थलों की विजिट करें। उन्होंने कोटा में शूट हुई बद्रीनाथ की दुल्हनिया फिल्म का भी जिक्र किया।

यह फिल्मोत्सव विश्व पर्यटन मानचित्र पर कोटा को स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। पर्यटन के क्षेत्र में पहचान बनेगी। शुभारंभ पर यूआईटी चेयरमैन आरके मेहता, गीतकार सईद कादरी एवं गायक संगीतकार क्षितिज तारे सहित अन्य मौजूद रहे।

यह रही खास
अदनान एस फारूक : कोलकाता के अदनान ने बताया कि उन्होंने भूटान नाम से डॉक्यूमेंट्री मूवी बनाई है। यह आठ मिनट 50 सेकंड की है। दर्शकों ने भूटान के दर्शनीय स्थलों को देखने के बाद काफी प्रशंसा की है। यह मूवी सीमित संसाधनों से बनाई है। इसे अवाॅर्ड भी मिल चुका है।

भूरा : कोटा के ही कलाकार अभिषेक तिवारी द्वारा निर्देशित मूवी है। एक भिखारी बच्चे से आईआईटीयन बनने तक की एक कहानी इस मूवी में नजर आती है। यह 46 मिनट की मूवी है। इसे अभी तक सात अवाॅर्ड मिल चुके हैं। इसे देश के 200 स्कूलों में दिखाया जा चुका है।

लोहारू फोर्ट : हरियाणा के आदित्य सांगवान की हेरिटेज स्थल की दशा बताने और रिनोवेशन को लेकर यह मूवी तैयार की है। यह 18 मिनट और 35 सेकंड की है। यह फोर्ट मिर्जा गालिब के ससुराल का है। इसे 1560 में बनवाया था, लेकिन आज इसकी दुर्दशा है। इस सब्जेक्ट में फोकस किया है।