PNB फ्रॉड: नीरव के 44 करोड़ के बैंक डिपॉजिट, इम्पोर्टेड वॉच, शेयर जब्त

0
30

नई दिल्ली। पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में हुए 11,356 करोड़ रुपए के घोटाले में 9वें दिन भी कार्रवाई जारी है। ईडी ने शुक्रवार को नीरव मोदी के 30 करोड़ रुपए बैलेंस वाले बैंक अकाउंट्स, 13.86 करोड़ रुपए मूल्य के शेयर्स, इम्पोर्टेड वॉच से भरे 60 कंटेनर और स्टील की 176 अलमारी जब्त की हैं।

सूत्रों के मुताबिक, वित्त मंत्रालय ने पहली बार इस मामले में 4 बैंकों को लेटर लिखकर अकाउंट्स में अनियमितताओं पर नजर रखने के लिए कहा है। इसके अलावा मंत्रालय ने पब्लिक सेक्टर बैंकों के लिए नियामक भी बनाए हैं। जिनके तहत पब्लिक सेक्टर बैंकों को अब एक मॉनिटरिंग एजेंसी बनानी होगी जो 250 करोड़ से ऊपर के लोन्स पर नजर रखेगी।

किन बैंकों को लिखे लेटर?
– वित्त मंत्रालय ने स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, एक्सिस बैंक, इलाहाबाद बैंक और बैंक ऑफ इंडिया को लेटर लिखकर अकाउंट्स में गड़बड़ियों की जांच करने के लिए कहा है।
– इसके अलावा मंत्रालय ने हॉंगकॉंग के 4 बैंकों को लेटर लिखकर पीएनबी की ओर से दिए गए फर्जी LoUs की जानकारी भी मांगी है।

आईसीएआईने क्या कार्रवाई की?
– इससे पहले गुरुवार को इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टेड अकाउटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) ने भी एक्शन लिया। उसने आरबीआई से 2000 करोड़ तक के लोन डिफॉल्टर्स की लिस्ट मांगी है।
– आईसीएआई ने पीएनबी और गीतांजलि जेम्स कंपनी को शो-कॉज (कारण बताओ) नोटिस जारी किया है। पीएनबी के डिप्टी जनरल मैनेजर को समन जारी किया गया गया है। इसमें मामले से जुड़ी एफआईआर की कॉपी और फ्रॉड से जुड़ी जानकारी मांगी है।
– लेटर जारी करके सिक्युरिटी ऑफ एक्सचेंज बोर्ड (सेबी), सीबीआई, ईडी और पंजाब नेशनल बैंक से फ्रॉड के बारे में जानकारी मांगी है।
– 15 फरवरी को जारी इस लेटर में जांच एजेंसी से फ्रॉड में किसी चार्टर्ड एकाउंटेंट या फर्म के जुड़े होने से संबंधित जानकारी भी मांगी गई है।
– आरबीआई से उन सभी लोगों की लिस्ट देने को कहा है, जिन पर 2000 करोड़ से ज्यादा का लोन बकाया है।
नीरव माेदी और मेहुल चौकसी से जुड़ा मामला क्या है?
– पंजाब नेशनल बैंक ने पिछले दिनों सेबी और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को 11,356 करोड़ रुपए के घोटाले के जानकारी दी थी। घोटाला पीएनबी की मुंबई की ब्रेडी हाउस ब्रांच में हु। शुरुआत 2011 से हुई। 8 साल में हजारों करोड़ की रकम फर्जी लेटर ऑफ अंडरटेकिंग्स (एलओयू) के जरिए विदेशी अकाउंट्स में ट्रांसफर की गई।
– धोखाधड़ी की रकम 2016-17 में पंजाब नेशनल बैंक के 1,325 करोड़ के मुनाफे का 8 गुना, बैंक के 35,365 करोड़ के मार्केट कैप का एक तिहाई और 4.5 लाख करोड़ के कुल कर्ज का 2.5% है।
– 2017 में फोर्ब्स की अमीर भारतीयों की लिस्ट में शामिल नीरव मोदी इस फ्रॉड के केंद्र में हैं। मोदी का मामा मेहुल चौकसी भी आरोपी है। चौकसी गीतांजलि ग्रुप चलाता है। ग्रुप की तीन कंपनियों गीतांजलि जेम्स, गिली इंडिया और नक्षत्र के खिलाफ फ्रॉड केस दर्ज हुए हैं।
– नीरव के ठिकानों से ईडी ने अब तक 5649 करोड़ रुपए के जेवर जब्त किए हैं।

गुरुवार को क्या कार्रवाई हुई?
– पीएनबी लोन फ्रॉड मामले में आठवें दिन भी कार्रवाई हुई। एन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ईडी) ने हीरा कारोबारी नीरव मोदी और गीतांजलि ग्रुप के मालिक मेहुल चौकसी के 100 करोड़ रुपए मूल्य के बैंक डिपाॅजिट्स, लग्जरी कारें और शेयर्स जब्त किए। वहीं, नीरव मोदी बयान दर्ज कराने के लिए ईडी के सामने भी पेश नहीं हुए।
– उधर, इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने हैदराबाद सेज (इस्पेशल इकोनॉमिक जोन) में गीतांजलि ग्रुप की 1200 करोड़ की प्रॉपर्टी अटैच की।