विश्व का सबसे बड़ा डेटाबेस है आधार-पीएम मोदी

0
17

हैदराबाद। आंट्रप्रन्योरशिप समिट (जीईएस) में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ग्लोबल आंट्रप्रन्योरशिप समिट से भारत और अमेरिका के करीबी संबंधों का पता चलता है। अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप भारत दौरे पर हैं। इवांका ग्लोबल आंट्रप्रन्योरशिप समिट (GES) में भाग लेने के लिए हैदराबाद पहुंची हैं।

आधार का जिक्र करते हुए समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमने आधार  के रूप में विश्व का सबसे बड़ा डेटाबेस बनाया है। इसके साथ ही समिट में पीएम मोदी ने यह भी कहा कि मुझे यह देखकर गर्व हो रहा है कि पहली बार ऐसे किसी कार्यक्रम में 1500 महिला आंट्रप्रन्योर हिस्सा ले रही हैं।

‘हैदराबाद पर हैं दुनियाभर की नजरें’
कार्यक्रम में पीएम ने कहा कि आज पूरी दुनिया की नजरें हैदराबाद पर हैं। दुनियाभर से लोग इस समिट में हिस्सा लेने आए हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हम 900 से ज्यादा स्कूलों में नवीनता और उद्यमता की संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए टिंकरिंग लैब खोल रहे हैं। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि हमारी सरकार ने कारोबारी माहौल को सुधारने के लिए कई कदम उठाए हैं।

सभी देशों से की अपील
आंट्रप्रन्योरशिप समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि दुनियाभर से आए हुए दोस्तों आइए आगे बढ़कर मेक इन इंडिया, इन्वेस्ट इन इंडिया और भारत समेत दुनिया भर के लिए कदम बढ़ाएं।

‘वैश्विक शांति के लिए देंगे सहयोग’
कार्यक्रम में शामिल केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि मुझे कोई संशय नहीं है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और
राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के नेतृत्व में भारत और यूएस नई बुलंदियों को छुएंगे। साथ ही वैश्विक शांति और समन्वयता के लिए योगदान देंगे। बता दें की जीईएस-2017 में 127 देशों के आंट्रप्रन्योर भाग ले रहे हैं। यह समिट 30 नवंबर तक चलेगी।