राहत पैकेज का असर, सेंसेक्स 801, निफ्टी 307 अंक उछल कर खुले

0
233

मुंबई। सरकार की ओर से घोषित 1.70 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का असर शेयर बाजार में शुक्रवार को देखने को मिला। बाजार तीसरे दिन शुक्रवार को भी बढ़त के साथ खुलने में कामयाब रहे। सेंसेक्स 801.04 अंक ऊपर और निफ्टी 307.65 पॉइंट ऊपर खुले। अभी सेंसेक्स 589.77 अंक ऊपर 30,536.54 पर और निफ्टी 224.95 पॉइंट ऊपर 8,866.40 पर कारोबार कर रहा है।

इससे पहले गुरुवार को बाजारों में भारी बढ़त देखने को मिली थी। ट्रेडिंग के दौरान बाजार में 1500 अंक का उछाल देखने को मिला था। सेंसेक्स ने 1410.99 अंक या 4.94% की बढ़त के साथ 29,946.77 पर और निफ्टी ने 323.60 अंक या 3.89% की बढ़त के साथ 8,641.45 पर कारोबार खत्म किया था।

डाउ जोंस, नैस्डैक और एसएंडपी में भी रही तेजी
गुरुवार को अमेरिकी बाजार के साथ दुनियाभर के बाजारों में तेजी देखने को मिली। डाउ जोंस 6.38 फीसदी की बढ़त के साथ 1,351.62 अंक ऊपर 22,552.20 पर बंद हुआ। वहीं, अमेरिका के दूसरे बाजार नैस्डैक 5.60 फीसदी बढ़त के साथ 413.24 अंक ऊपर 7,797.54    पर बंद हुआ। दूसरी तरफ, एसएंडपी 6.24 फीसदी बढ़त के साथ 154.51 पॉइंट ऊपर चढ़कर 2,630.07 पर बंद हुए। फ्रांस के CAC 40 2.51 फीसदी बढ़त के साथ 4,543.58 अंको पर बंद हुआ।

इंडसइंड बैंक के शेयर में15% तक बढ़त
गुरुवार को बैंकिंग सेक्टर में लगभग 45 प्रतिशत तक तेजी दिखी। ट्रेडिंग के दौरान इंडसइंड बैंक के शेयरों में 47.33% तक उछाल आया। वहीं, बाजार बंद होने पर इंडसइंड बैंक के शेयरों में 45.07 प्रतिशत की बढ़त रही। शुक्रवार को भी इस बैंक के शेयर में अब तक सबसे ज्यादा14.99 प्रतिशत की बढ़त देखने को मिली है।

बैंकबढ़त (%)
इंडसइंड बैंक14.99%
फेडरल बैंक9.93%
कोटक बैंक2.79%
HDFC बैंक5.87%
एक्सिस बैंक14.99%
ICICI बैंक6.60%
RBL बैंक7.44%
SBI बैंक8.79%
सिटी यूनियन बैंक2.50%

सरकार ने 1.70 लाख करोड़ के पैकेज दिया
कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने के लिए देश में 21 दिन का लॉकडाउन है। इस दौरान आम लोगों और खासकर गरीबों को परेशानी न हो, इसके लिए सरकार ने बड़े राहत पैकेज का ऐलान किया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को तीन दिन में दूसरी प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इसमें उन्होंने कहा कि दूसरे राज्यों से आने वाले कामगारों और गरीबों के लिए एक पैकेज तैयार है। यह पैकेज 1.70 लाख करोड़ रुपए का है। हमारी कोशिश रहेगी कि गांवों और शहरों में रहने वाला कोई भी गरीब भूखा न सोए। इसके तहत गरीबों को हर महीने 10 किलो का मुफ्त अनाज दिया जाएगा। किसानों को भी आर्थिक मदद दी जाएगी। महिलाओं, बुजुर्गों और कर्मचारियों के लिए भी ऐलान किए गए हैं।

अमेरिकी पैकेज से बाजार को राहत
कोरोनावायरस महामारी के कारण अर्थव्यवस्था में आ रही गिरावट को थामने के लिए अमेरिका 2 लाख करोड़ डॉलर (करीब 151 लाख करोड़ रुपए) का राहत पैकेज जारी करने जा रहा है। पैकेज को लेकर ह्वाइट हाउस और सीनेट के बीच सहमति बन गई है। इस खबर से अमेरिकी शेयर बाजार डाउ जोंस में उछाल देखी गई। यह 1929 की महामंदी के बाद से एक दिन में डाउ जोंस की सबसे बड़ी उछाल है। 25,000 करोड़ डॉलर का फंड ऐसे लोगों के लिए जिनकी नौकरी कोरोनावायरस के कारण चली गई या जिनका रोजगार प्रभावित हुआ है।