PNB फ्रॉड : LIC और म्युचुअल फंड्स को भी लगा झटका, डूब गए 1700 करोड़

0
19

मुम्‍बई।  PNB में हुए घोटाले के चलते LIC सहित म्‍युचुअल फंड कंपनियों में निवेश करने वालों को करीब 1700 करोड़ रुपए का झटका लगा है। भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) ने दिसबंर 2017 में ही PNB में अपनी हिस्‍सेदारी को 1.41 फीसदी बढ़ाकर 13.93 फीसदी कर लिया था।

यह हिस्‍सेदारी एलआईसी ने क्‍वालीफाइड इंस्‍टीट्यूशनल प्‍लेसमेंट के रूप में ली थी। इस बढ़ी हिस्‍सेदारी के कारण LIC काे PNB घोटाले में 1120 करोड़ रुपए का झटका लगा है। PNB में LIC सबसे बड़ा निवेशक है।

LIC के अलावा निफ्टी पीएसयू बैंक इंडेक्‍स में शामिल PNB में देश के 12 सरकारी बैंकों ने भी निवेश कर रखा है। हाल ही में PNB में 11 हजार करोड़ रुपए से ज्‍यादा का घोटाला सामने आया है।

म्‍युचुअल फंड कंपनियों को भी लगा झटका
PNB घोटाले से म्‍युचुअल फंड कंपनियों को तगड़ा झटका लगा है। देश की 42 म्‍युचुअल फंड कंपनियों ने कुल मिलाकर PNB में 8.1 हिस्‍सेदारी ले रखी है। इस प्रकार म्‍युचुअल फंड निवेशकों को करीब 640 करोड़ रुपए का झटका लगा है।

PNB में एचडीएफसी आसेट मैनेजमेंट कंपनी की ही 13 म्‍युचुअल फंड स्‍कीम्‍स का 4.48 फीसदी का एक्‍सपोजर है। यह आंकड़े 31 जनवरी तक के हैं। इस लिहाज से सबसे ज्‍यादा नुकसान एचडीएफसी म्‍युचुअल फंड के निवेशकों को हुआ है। इनका करीब 358 करोड़ रुपए डूब चुका है।

अन्‍य म्‍युचुअल फंड कंपनियों का हाल
बिड़ला सन लाइफ म्‍युचुअल फंड की स्‍कीम्‍स का पीएनबी में 0.84 फीसदी एक्‍सपोजर है। इस फंड हाउस ने भी पिछले दिनों पीएनबी में अपनी हिस्‍सेदारी बढ़ाई थी। नवबंर 2017 की तुलना में इसका एक्‍सपोजर दिसबंर 2017 में 76 बेसिस प्‍वांट बढ़ा है।

वहीं डीएसपी ब्‍लैकरॉक म्‍युचुअल फंड हाउस ने भी अपनी स्‍कीम्‍स के माध्‍मस से पीएनबी में निवेशक कर रखा है। इसका पीएनबी में दिसबंर में कुल एक्‍सपोजर 0.66 फीसदी था। इसके चलते इस कंपनी के निवेशकों के करीब 52 करोड़ रुपए डूब गए।

इसके अलावा कोटक महिन्‍द्रा म्‍युचुअल फंड का पीएनबी में एक्‍सपोज 0.47 फीसदी है। इस तरह इस कंपनी के करीब 37 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।

ये है पीएनबी घोटाला और निवेशकाें का नुकसान का आंकड़ा
पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में दो दिन पहले 11,400 करोड़ रुपए के फ्रॉड खबर सामने आई थी। बैंक ने खुद ही मुम्‍बई शेयर को इसकी जानकारी दी थी। बाद में इसकी भारी कीमत निवेशकों को चुकानी पड़ी है।

फ्रॉड की खबर से दो दिन में पीएनबी के स्टॉक में 22.33 फीसदी तक की गिरावट दर्ज की गई है। इससे पीएनबी में निवेश करने वालों को कुलमिला कर 8,756.36 करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ है।

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों को भी लगा झटका
31 दिसबंर 2017 तक विदेशी पोर्टफोलियो इन्‍वेस्‍टर की PNB में 12.56 फीसदी हिस्‍सेदारी थी। LIC के बाद यही इस बैंक में सबसे बड़े निवेशक हैं। विदेशी पोर्टफोलियो इन्‍वेस्‍टर में से लाजार्ड इमर्जिंग मार्केट इक्विटी ने ही अकेल इस बैंक में 2.21 फीसदी की हिस्‍सेदारी ले रखी है।