जेईई-मेन 2018 में आवेदन का आज अंतिम दिन

0
24
  • अंतरराष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा के लिए देश में 248 तथा विदेशों में 10 परीक्षा केंद्र बनाए
  • जेईई-मेन वेबसाइट पर निःशुल्क सेम्पल पेपर व मॉक टेस्ट सुविधा उपलब्ध

अरविंद, कोटा। जेईई-मेन,2018 में ऑनलाइन आवेदन करने का आज 1 जनवरी अंतिम दिन है। 1 दिसंबर से एक माह में 10 लाख से अधिक विद्यार्थियों ने पंजीयन करवाया। विद्यार्थी जेईई-मेन वेबसाइट पर 2 जनवरी तक फीस जमा करवा सकते हैं। 2 मार्च से परीक्षार्थी अपने प्रवेश पत्र डाउनलोड कर सकेंगे।

संयुक्त प्रवेश बोर्ड (जेब) के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर के अनुसार, जेईई-मेन की पेन-पेपर परीक्षा (ऑफलाइन) 8 अप्रैल को तथा कम्प्यूटर बेस्ड टेस्ट (ऑनलाइन परीक्षा) 14 एवं 15 अप्रैल को दो पारियों में होगी। अंतरराष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा भारत सहित 10 अन्य देशों श्रीलंका, बांग्लादेश, नेपाल, सिंगापुर, बहरीन, दुबई, मस्कट, रियाद, कतर व शरजाह में होगी।

जेईई-मेन वेबसाइट पर परीक्षार्थियों को सेम्पल पेपर एवं मॉक टेस्ट सुविधा निशुल्क उपलब्ध कराई गई, जिससे ग्रामीण परीक्षार्थियो को बहुत मदद मिली। इस वर्ष 12वीं में अध्ययनरत विद्यार्थी बोर्ड परीक्षा समाप्त होने के तुरंत बाद 8 अप्रैल को जेईई-मेन का ऑफलाइन पेपर देंगे।

इस वर्ष केवल प्रवेश परीक्षा देने के लिए 12वीं बोर्ड में 75 प्रतिशत अंकों की अनिवार्यता नहीं रखी गई। गत वर्ष जेईई-मेन,2017 में 11,22,381 परीक्षार्थियों ने पेपर दिया था, जिसमें से 2,21,427 एडवांस्ड के लिए क्वालिफाई हुए थे।

35 हजार से अधिक सीटों के लिए परीक्षा
संस्थान                                             सीटें
31 एनआईटी –                                17,868
24 त्रिपल आईटी-                                3433
21 केंद्र वित्त पोषित संस्थान-                    3919
19 अन्य प्रमुख तकनीकी संस्थान-            10,000
कुल सीटें –                                     35,220
(स्टेट रैंक से राज्यों के इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश की सीटें अतिरिक्त)

जेईई-मेन,2018 की ऑल इंडिया रैंक से राष्ट्रीय स्तर पर 31 एनआईटी, 24 ट्रिपल आईटी, 21 गवर्नमेंट वित्त पोषित संस्थानों तथा 19 अन्य उच्च तकनीकी संस्थानों की 35,220 से अधिक बीटेक व बीआर्क सीटों पर प्रवेश दिए जाएंगे।

इस वर्ष मध्यप्रदेश, हरियाणा, उडीसा, उत्तराखंड व नागालैंड के सभी इंजीनियरिंग कॉलेजों में जेईई-मेन सिस्टम से प्रवेश दिए जाएंगे। वहां स्टेट प्रवेश परीक्षा अलग से नहीं होगी।

जिन विद्यार्थियों ने इन राज्यों में 2017 में राज्यस्तरीय प्रवेश परीक्षा दी है, वे जेईई-मेन,2018 देकर रैंक सुधार सकते हैं। रैंक सुधारने के लिए अधिकतम तीन अवसर मिलेंगे।

जेईई-मेन,2018 का पेपर-1 ऑनलाइन व ऑफलाइन दोनों मोड में होगा, जबकि बीआर्क के लिए पेपर-2 केवल ऑनलाइन होगा। 3 घंटे के पेपर-1 में फिजिक्स, केमिस्ट्री व मैथ्स तीनां विषयों से बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाएंगे।

जबकि पेपर-2 में मैथ्स, एप्टीट्यूट टेस्ट व ड्राइंग टेस्ट पर आधारित प्रश्न होंगे। जेईई-मेन में शीर्ष रैंक से चयनित 2.24 लाख परीक्षार्थी 20 मई को ऑनलाइन जेईई-एडवांस्ड,2018 देंगे।

यहाँ से करे ऑनलाइन आवेदन