वैक्सीन, मास्क, दो गज की दूरी के साथ हमें कोरोना से परमात्मा ही बचा सकता है

0
358

कोटा। ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की मुख्य प्रशासिका उर्मिला दीदी ने कहा कि पूरे विश्व में कोरोना महामारी से भारी विपदा आई है।  वैक्सीन, मास्क, दो गज की दूरी के साथ-साथ परमात्मा ही हमें बचा सकता है। हम सभी परमात्मा से यह प्रार्थना करें कि इस भारी विपदा से पूरे विश्व को शीघ्र छुटकारा मिले। उसके लिए आत्मबल एवं आत्मविश्वास के साथ साथ मानव सेवा के प्रति भी आगे आकर कोरोना गाइडलाइन की पालना करें।

वे सोमवार को चम्बल हॉस्टल एसोसिएशन एवं प्रजापति ब्रह्माकुमारीज ईश्वरीय विश्वविद्यालय की ओर से शक्ति सरोवर परिसर लैंडमार्क कुन्हाड़ी में आयोजित टीकाकरण शिविर के शुभारंभ के अवसर पर संबोधित कर रही थीं। शिविर में 227 व्यक्तियों को वैक्सीन लगाई गई। टीकाकरण शिविर का शुभारंभ अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रवीण जैन, पुलिस उप अधीक्षक भगवत सिंह हिंगड़, कोटा व्यापार महासंघ के महासचिव अशोक माहेश्वरी, दी एसएसआई एसोसिएशन के संस्थापक अध्यक्ष गोविंद राम मित्तल ने प्रजापिता ब्रह्माकुमारीज ईश्वरीय विश्व विश्वविद्यालय की मुख्य प्रशासिका बहन उर्मिला दीदी को टीका लगाकर किया। 

इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रवीण जैन ने कहा कि कोटा व्यापार महासंघ की पहल पर शहर में पिछले 12 दिनों से चल रहे टीकाकरण शिविर में शहर के आमजन में वेक्सीन के प्रति रुझान दिख रहा है। वर्तमान में जिस तरह से कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है, उसको फैलने से रोकने के लिए सभी वर्गों को मास्क लगाना एवं 2 गज की दूरी की पालना करना अति आवश्यक है। सरकार द्वारा निर्धारित कोरोना गाइड.लाइन की पालना करवाने के लिए पुलिस प्रशासन कटिबद्ध है। 

उन्होंने सफल कैम्प के आयोजन के लिए  कोटा व्यापार महासंघ एवं चंबल हॉस्टल एसोसिएशन, ब्रह्माकुमारीज की सदस्यों के साथ-साथ मेडिकल टीम का भी आभार व्यक्त किया। पुलिस उप अधीक्षक भगवत सिंह हिगड ने कहा कि वर्तमान कोरोना फैलाव की स्थितियां और विकट होती जा रही है अतः सभी को एकजुट होकर इसका सामना करना होगा।

दी एसएसआई एसोसिएशन के संस्थापक अध्यक्ष गोविंद राम मित्तल ने कहा कि कोरोना के तेजी से फैलने से लॉक डाउन की आशंका से सभी लोग बहुत चिंतित हैं। उन्होंने लॉकडाउन को देश की अर्थव्यवस्था के लिए घातक बताया है। अतः इससे बचने के लिए सभी वर्गों को आगे आना चाहिए। क्योंकि लॉकडाउन से छोटे से लेकर बडा तबका तक प्रभावित होता है। कोरोना गाइड लाइन की पालना एवं वेक्सीन जरूर लगाना चाहिए, ताकि कोरोना का फैलाव को रोका जा सके।

कोटा व्यापार महासंघ के महासचिव अशोक माहेश्वरी ने कहा के सभी व्यापारिक संगठनों एवं समाजसेवी संस्थाओं ने अपने-अपने स्थानों पर स्वास्थ्य विभाग के साथ जिस तरह से शिविरों का आयोजन किया है, उससे वैक्सीन की कमी हो गई। साथ ही पूरे शहर में टीकाकरण के प्रति जो लोगों की भ्रांतियां थी, वह दूर हो गई। अब हर व्यक्ति विश्वास के साथ टीका लगवाने के लिए आगे आ रहा है। आज कई घरों में पूरे परिवार कोरोना से ग्रसित है, जो एक चिंता का विषय है। इन विकट परिस्थितियों से बाहर आने के लिए संयुक्त प्रयासों से ही हमें राहत मिल सकती है।

चंबल हॉस्टल एसोसिएशन के सचिव अशोक लड्ढा ने कहा कि कोचिंग क्षेत्र में कोरोना को हम नहीं फेलने देंगे। एसोसिएशन की तरफ से सभी सदस्यों एवं छात्रों से हम कोरोना गाइडलाइन की पालना करवाने, वैक्सीन के लिए आमजन हॉस्टल व्यवसायियों को प्रेरित कर रहे हैं। साथ ही पूरे कोचिंग एवं हॉस्टल क्षेत्रों को सैनिटाइज कर बिना मास्क के घूम रहे लोगों से समझाइश की जा रही है।

शिविर के प्रारंभ में ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की ओर से सभी अतिथियों का दुपट्टा एवं साफा पहनाकर स्वागत एवं सम्मान किया गया। इसके बाद दीप प्रज्वलन कर मुख्य प्रशासिका उर्मिला दीदी को वैक्सीन लगाकर शिविर का शुभारंभ किया गया। समारोह का संचालन कार्यक्रम के समन्वयक डॉक्टर हेमलता गांधी, प्रबंधक सामाजिक विकास नगर निगम कोटा ने किया।