IT शेयरों में गिरावट से सेंसेक्स फिसलकर 49,200 पर

0
117

मुंबई। बाजार की शुरुआत गुरुवार को गिरावट के साथ हुई। सेंसेक्स 49,200 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। गिरावट में IT शेयर सबसे आगे हैं। इसमें HCL टेक का शेयर 3.63% नीचे कारोबार कर रहा है। इसी तरह इंफोसिस के शेयरों में भी 2.19% नीचे है। वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) पर निफ्टी इंडेक्स भी 14,500 के स्तर पर आ गया है।

सुबह 09:45 बजे सेंसेक्स 219 अंकों की गिरावट के साथ 49,273.26 पर कारोबार कर रहा था। एक्सचेंज पर 2,265 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हो रहा है, जिसमें 1,248 के शेयरों में गिरावट है। लिस्टेड कंपनियों का टोटल मार्केट कैप 196.31 लाख करोड़ रुपए है।

इसी तरह निफ्टी में भी गिरावट है। इंडेक्स 66.15 अंक नीचे 14,498.70 पर कारोबार कर रहा है। इसमें विप्रो और इंफोसिस के शेयर टॉप लूजर हैं। शेयरों में 3-3% नीचे कारोबार कर रहे हैं। दूसरी ओर, इंडसइंड बैंक का शेयर 3% बढ़त के साथ कारोबार कर रहा है।

इंफोसिस और विप्रो पर होगा फोकस
बाजार बंद होने के बाद देश की दो दिग्गज IT कंपनियों इंफोसिस और विप्रो ने दिसंबर तिमाही को पेश किए। इसमें इंफोसिस का नेट प्रॉफिट जहां पिछले साल की तुलना में 16.6% बढ़ा, वहीं विप्रो का प्रॉफिट 20.8% बढ़ा। इंफोसिस ने कहा कि उसका नेट प्रॉफिट 5,197 करोड़ रुपए रहा। रेवेन्यू भी 5.5% बढ़कर 25,927 करोड़ रुपए रहा। वहीं, विप्रो का प्रॉफिट बढ़कर 2,966.7 करोड़ रुपए और ग्रॉस रेवेन्यू 1.3% बढ़कर 15670 करोड़ रुपए रहा।

एशियाई बाजारों में तेजी
कोरोना वैक्सीन को लेकर लगातार पॉजिटिव खबरों के बीच वैश्विक बाजारों में अच्छी बढ़त दर्ज की जा रही है। गुरुवार को एशियाई बाजारों में जापान का निक्केई इंडेक्स 1.60% ऊपर कारोबार कर रहा है। दक्षिण कोरिया का कोस्पी इंडेक्स, हॉन्गकॉन्ग का हेंगसेंग और चीन का शंघाई कंपोजिट इंडेक्स भी बढ़त के साथ कारोबार कर रहे हैं। कल अमेरिकी बाजारों में भी उतार- चढ़ाव देखने को मिला। इसमें डाओ जोंस 8 अंक नीचे बंद हुआ, जबकि नैस्डैक और S&P 500 इंडेक्स हल्की बढ़त के साथ बंद हुए थे।

बाजार बुधवार को सपाट बंद हुआ था
बुधवार को सेंसेक्स 24.79 अंकों की गिरावट के साथ 49,492.32 पर और निफ्टी 1.40 अंकों ऊपर 14,564.85 पर बंद हुआ था। ओवरऑल मार्केट में फाइनेंशियल शेयरों ने दबाव बनाया था। इसमें बजाज फाइनेंस, HDFC और बजाज फिनसर्व सबसे आगे रहें। वहीं, NSE पर सबसे ज्यादा तेजी निफ्टी PSU इंडेक्स में दर्ज की गई थी।