न्यूड नहीं मिली थी दिशा सालियन की बॉडी, मुंबई पुलिस ने दी सफाई

0
265

मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से कहा जा रहा है कि उनकी पूर्व मैनेजर बताई जा रहीं दिशा सालियन की मौत की जांच में मुंबई पुलिस ढिलाई बरत रही है। अब मुंबई पुलिस ने दिशा सालियन की मौत के मामले में कुछ तथ्य मीडिया के साथ पेश किए हैं। इस मामले पर मुंबई पुलिस के डीसीपी जोन-11 विशाल ठाकुर ने बताया है कि दिशा की मौत के बारे में चल रही कुछ मीडिया रिपोर्ट्स गलत हैं।

डीसीपी विशाल ठाकुर ने स्पष्ट किया है कि कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि दिशा की बॉडी न्यूड मिली थी। ऐसी सभी रिपोर्ट्स बिल्कुल गलत हैं। डीसीपी ने बताया कि जब दिशा की बॉडी मिली तब पुलिस ने तुरंत वहां पहुंच कर शव का पंचनामा किया। उन्होंने यह भी बताया है कि मौके पर दिशा सालियन के माता-पिता भी मौजूद थे।

डीसीपी विशाल ठाकुर ने बताया है कि दिशा ने अपनी मौत से पहले आखिरी कॉल अपनी दोस्त अंकिता को की थी। उन्होंने बताया कि अंकिता के साथ ही लगभग 20-25 लोगों के बयान अभी तक दर्ज किए गए हैं। बता दें कि दिशा सालियन की मौत 8 जून को मुंबई के मलाड इलाके में एक बहुमंजिला इमारत की 14 वीं मंजिल से गिरकर हो गई थी।

मुंबई पुलिस पर लग रहे हैं आरोप
मुंबई पुलिस पर आरोप है कि उन्होंने 2 दिन बाद दिशा के शव का पोस्टमॉर्टम कराया। इसके अलावा यह भी आरोप हैं कि उनके शरीर, नाखूनों और कपड़ों से फरेंसिक सबूत इकट्ठे नहीं किए गए, कोई वीडियोग्रफी या फोटोग्राफी नहीं की गई। यह भी बताया जा रहा है कि मुंबई पुलिस ने दिशा के शव का पोस्टमॉर्टम होने के 4 दिन बाद उनका फोन फरेंसिक जांच के लिए भेजा था।