‘किसान त्रस्त-जनप्रतिनिधि मस्त’ आन्दोलन 5 अगस्त से होगा

0
127

भारतीय किसान संघ का ‘ग्राम से संग्राम’ अभियान एवं अनिश्चितकालीन धरना

कोटा।भारतीय किसान संघ की ओर से किसानों की समस्याओं को लेकर ‘किसान त्रस्त- जनप्रतिनिधि मस्त’ आन्दोलन शुरू किया जा रहा है। जिसके तहत पहले चरण में ‘ग्राम से संग्राम’ अभियान लिया जा रहा है।

भारतीय किसान संघ के संभागीय प्रवक्ता आशीष मेहता ने बताया कि सत्ता के नशे में डूबी किसान विरोधी सरकार किसानों की शक्ति को हल्के में लेकर किसानों की समस्याओं को नजरअंदाज कर रही है।

इस आंदोलनात्मक अभियान में 4 अगस्त तक विधायक व सांसद का घेराव किया जाएगा। इस अभियान के अंतर्गत जनप्रतिनिधियों के घर पर एक दिवसीय सांकेतिक धरना-प्रदर्शन कर किसानों की समस्याओं से अवगत कराया जाएगा।इसके बाद 5 अगस्त से तहसील पर सभी ग्राम पंचायतों का सामूहिक अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन रहेगा। जो आगामी महापड़ाव का एक कदम होगा।

मेहता ने बताया कि आन्दोलन को गति देने के लिए बूंदी में रामनाथ, रामकुमार नागर, प्रहलाद, कोटा में शंकरलाल, भारती नागर, बारां में अमृतलाल, घनश्याम, राममूर्ति तथा झालावाड़ में कैलाश गन्दोलिया, हेमराज व सीताराम को प्रभारी नियुक्त किया गया है।

जिला अध्यक्ष गिरीराज चौधरी तथा प्रचार प्रमुख रूपनारायण यादव ने बताया कि सोमवार को सुल्तानपुर में बैठक आयोजित की गई। जिसमें आन्दोलन की रूपरेखा तैयार की गई। वहीं मंगलवार को इटावा, लाडपुरा तथा सांगोद में, बुधवार को दीगोद व कनवास में तथा गुरूवार को रामगंजमंडी व चेचट में आन्दोलन की रूपरेखा तैयार की जाएगी।