लड़कियों में लड़कों के मुकाबले ज्यादा तनाव: स्टेडी

0
280

बदलती लाइफस्टाइल और बढ़ते तनाव के साथ दुनिया भर में मेंटल हेल्थ की समस्या बढ़ रही है। सिर्फ बड़े ही नहीं, बल्की बच्चे और किशोर भी इसका शिकार हो रहे हैं। करियर के फैसले और बनते-बिगड़ते रिश्तों के फेज में वे अपनी मानसिक स्थिति किसी के साथ शेयर करने से भी कतराते हैं।

हर परिवार में बच्चे की सेहत का खूब ख्याल रखा जाता है। उसके खानपान से लेकर, उसके आसपास साफ-सफाई तक का आप ध्यान रखते हैं ताकि कहीं वह बीमार न हो जाए। लेकिन अकसर पैरंट्स बच्चों के मेंटल हेल्थ को नजरअंदाज कर देते हैं। एक स्टडी के अनुसार लड़कियों में लड़कों के मुकाबले ज्यादा तनाव होता है। यह तनाव करियर के चुनाव को लेकर, एग्जाम्स और परिवार में समस्याओं के कारण बढ़ता है।

US में Mental health के लिए ले सकेंगे छुट्टी
बच्चों में बढ़ते तनाव को देखते हुए ऑरेगन में एक अनूठा फैसला लिया गया है। ऑरेगन यूएस का एक स्टेट है। यहां बच्चों के लिए मेंटल हेल्थ के लिए एक छुट्टी का प्रावधान शुरू किया गया है। यह ठीक वैसा है जैसे बच्चे बीमार पड़ने पर सिक लीव ले सकते हैं, वैसे किसी वजह से तनाव में होने पर मेंटल हेल्थ लीव ले सकेंगे।

मानसिक रूप से हेल्दी रहने के लिए ये 5 तरीके अपनाएं
मेंटल हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार ऑरेगन उन पहले देशों में से है जिसने बच्चों की मानसिक सेहत को ध्यान में रखकर कानून बनाया है। यहां बच्चे हर तीन महीने में 5 मेंटल हेल्थ लीव ले सकेंगे। बता दें कि 2017 में ऑरेगन में 825 लोगों सुइसाइड किया था। उस साल ऑरेगन में 15 से 24 साल के लोगों की मौत का दूसरा सबसे बड़ा कारण आत्महत्या था।