ब्राह्मण समाज ने किया फ़िल्म आर्टिकल-15 का विरोध

0
864

कोटा। ब्राह्मण समाज सोमवार को सैकड़ों की संख्या में सर्किट हाऊस पर एकत्रित हुआ, जहां से कलेक्ट्री तक विशाल रैली निकाल कर उग्र प्रदर्शन कर ब्राह्मण समाज ने प्रशासन को ज्ञापन दिया। समाज के प्रमुख नेताओं ने कहा की किसी भी समाज की छवि बिगाड़ने वाली फिल्में नहीं बनाई जाए। फ़िल्में मनोरंजन व भाई चारे को बढ़ाने वाली होती है न कि भाईचारे को बिगाड़ने वाली ।

उक्त फ़िल्म उत्तर प्रदेश 2014 में पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के समय हुए कांड पर फिल्माई गई है, जिसमे ब्राह्मण समाज का कोई अभियुक्त नही था ; जो थे वो भी सब बरी हो चुके है ! किंतु फ़िल्म निर्माता ने फ़िल्म को दुर्भावना वश ब्राह्मण समाज पर मिथ्या फिल्मांकन कर समाज को तोड़ने का अपराध किया है ! सरकार फ़िल्म को अविलंब रोके !