भर्ती परीक्षा: 5० हजार रुपये में ऐसे बदल जाता है परीक्षार्थी

0
687

जयपुर। प्रदेश में आयोजित हो रही भर्ती परीक्षाओं में 50 हजार से 5 लाख रुपए लेकर परीक्षार्थी बदलने वाली गैंग का खुलासा करते हुए सोमवार को करणी विहार थाना पुलिस ने गैंग के सरगना व महिला मित्र सहित तीन जनाे को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी करौली के श्रीमहावीरजी जी स्थित शेखपुरा निवासी मुकेश मीणा, सवाईमाधोपुर के मानटाउन निवासी योगेश मीणा व महिला के कब्जे से एफसीआई भर्ती परीक्षा के 50 से ज्यादा प्रवेश पत्र व एक लग्जरी कार बरामद की है।

गौरतलब है कि रविवार को आयोजित एफसीआई ग्रेड थर्ड भर्ती परीक्षा के दौरान अंलकार महिला पीजी कॉलेज से एक फर्जी परीक्षार्थी बिहार निवासी राहुल को गिरफ्तार किया था। जिसे पूछताछ के बाद ही गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है। राहुल पैसे के बदले किसी विजेन्द्र मीणा की जगह परीक्षा देने के लिए आया हुआ था।

थानाधिकारी धर्मराज चौधरी ने बताया कि पकड़ा गया मुकेश मीणा जगतपुरा इलाके में पकड़ी गई महिला के साथ रहकर भर्ती परीक्षाओं में परीक्षार्थी बदलने का काम करता है। इसके बदले से भर्ती परीक्षा की ग्रेड के आधार पर 50 हजार से लेकर 5 लाख रुपए वसूलता है। रविवार को परीक्षा के लिए विजेन्द्र परिचित होने के कारण 50 हजार लिए और परीक्षा देने के लिए राहुल को 20 हजार रुपए देने की बात सामने आई है। तस्दीक करने के लिए पुलिस विजेन्द्र की तलाश कर रही है।

आधार में फोटो बदलते थे
प्राथमिक जांच में सामने आया कि कैलाश परीक्षार्थी से पैसे संबंधी बात करने के बाद उसके आधार कार्ड व अन्य आईडी में फोटो बदलकर दूसरे परीक्षार्थी बैठाता है। दूसरी ओर, कैलाश के साथ पकड़ी गई महिला के पास भी दो आईडी मिली है पहली आईडी- उड़ीसा निवासी बसंती मांझी के नाम से व दूसरी आईडी वर्षा मीणा पत्नी मुकेश मीणा के नाम से है। पुलिस अभी तस्दीक कर रही है। असली कौन है।