राजस्थान की सरहद पर अभिनंदन तैनात, जवानों ने किया स्वागत

865

जयपुर। भारतीय वायुसेना के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को राजस्थान की सरहद पर तैनाती दी गई है। उन्होंने शनिवार को कार्यभार संभाल लिया है। सरहद पर जवानों ने उनका स्वागत किया।

गौरतलब है कि भारत की ओर से पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकवादी अड्ड़ों पर एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान के जवाबी हमले के दौरान मिग 21 से पाकिस्तानी एफ-16 को गिराने वाले विंग कमाण्डर अभिनंदन का मिग पाकिस्तानी सीमा क्षेत्र में क्रेश हो गया था। इस पर पाकिस्तान की सेना ने उन्हें पकड़ लिया था। बाद में भारत के दबाव के चलते पाक सरकार ने विंग कमाण्डर अभिनंदन को रिहा किया था।

चेन्नर्इ निवासी विंग कमाण्डर अभिनंदन वर्धमान की तैनाती इससे पहले भी राजस्थान में रह चुकी है। वे बीकानेर के नाल एयरफोर्स स्टेशन पर तीन वर्ष तक रहे हैं। करीब दो साल पहले ही उनका यहां से तबादला हुआ था। अभिनंदन यहां एयरफोर्स की आवासीय कॉलोनी में ऊपर के ब्लॉक में परिवार के साथ रहते थे। उस समय उनकी पत्नी व छोटा बेटा उनके साथ रहते थे।

अभिनंदन का जोधपुर से भी नाता रहा है। उनके पिता एस. वर्धमान जोधपुर एयरबेस पर अस्सी के दशक में स्क्वाड्रर्न लीडर के रूप में तैनात थे। वे भी डेजर्ट स्क्वाड्रर्न में मिग विमान के पायलट थे। वर्धमान एयर मार्शल के पद से सेवानिवृत्त हुए और फिलहाल चैन्नई में रहते हैं।

अभिनंदन की शुरुआती परवरिश उनके पिता के साथ जोधपुर में ही हुई थी। वे यहां स्थानीय स्कूल में भी पढ़े। पिता के नक्शे कदम पर चलते हुए अभिनंदन वर्ष 2004 में भारतीय वायुसेना में कमिशन्ड हुए थे। इस दौरान वे जोधपुर भी कई बार आ चुके हैं। उनके कई साथी यहां विभिन्न स्क्वाड्रर्न में तैनात हैं।