राजस्थान में सोने के भंडार होने की संभावना, राजस्थान 5वां राज्य

0
6

नई दिल्ली। भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण विभाग ने राजस्थान के उदयपुर जिले में सोने के बहुत बड़े भंडार का पता लगाया है। विभाग के अधिकारियों का अनुमान है कि यहां 11.48 करोड़ टन सोना हो सकता है।

भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण विभाग के महानिदेशक एन कुटुम्बा राव ने बताया कि राजस्थान में सोने की खोज में नयी संभावनाएं सामने आयी है। राजस्थान में सोने के भंडार होने की संभावनाएं यदि सच साबित होती हैं तो सोने के भंडार: इन 4 राज्यों में हैं सोने की खदानें, राजस्थान बना 5वां ऐसा राज्य होगा।

राजस्थान में सोने के भंडार होने की संभावनाओं के बाद यह जानना दिलचस्प हो गया है कि भारत में किन राज्यों व जिलों में सोने की खदानें हैं। तो आइए जानते हैं कि कितने बड़े है ये सोने के भंडार-इन 4 राज्यों में हैं सोने की खदानें-
1- कर्नाटक-
कर्नाटक भारत में सबसे बड़ा सोने का उत्पादक राज्य है। यहां से पूरे देश का करीब 88.7 फीसदी सोना निकाला जाता है। यहां कोलार, धारवाड़, हसन और रायचूर जिलों से सोना निकाला जाता है। माना जाता है कि कर्नाटक में करीब 17 लाख टन सोने के अयस्क का भंडार है।
2- आंध्र प्रदेश
यह देश का दूसरा सबसे बड़ा सोना उत्पादक राज्य है। यहां अनंतपुर जिले के रामागिरि में सोने की खदानें हैं। इसके के अलावा चित्तूर और पालाच्चूर में भी कुछ मात्रा में सोने का भंडार है।
3- झारखंड
यहां यह राज्य करीब 344 किलो सोने का उत्पादन हर साल करता है। यहां अधिकतर सोना सुवर्ण रेखा नाम की नदी में पाया जाता है। यह सोना नदी की रेत में जलोड़ के रूप में पाया जाता है। यहां सिंहभूमि और सोनापट घाटी प्रमुख स्वर्ण उत्पादन केंद्र हैं।
4- केरल
वर्तमान में सोना उत्पादन में प्रमुख चार राज्यों में केरल एक है। यहां पुन्ना पुझा और छवियार पुझा नदी के पास कुछ इलाकों में सोना पाया जाता है।