मधुमेह उन्मूलन एवं स्वावलम्बन पर काम करेगा लॉयंस क्लब

0
18

कोटा। लॉयंस क्लब (3233 ई-2)  अब नैत्रदान के बाद मधुमेह उन्मूलन के लिए विशेष अभियान चलाएगी। रविवार को लॉयंस भवन पर यहां महिमा-2018 के तहत आयोजित संभागीय अधिवेशन में अध्यक्ष गिरिराज राठी ने बताया कि अंधता निवारण में क्लब ने उल्लेखनीय काम किया है। अब जरूरत है कि मधुमेह रोग के उन्मूल की दिशा में काम किया जाए।

राठी ने बताया कि इसी के साथ युवाओं को स्वालम्बी बनाने और गांवों में स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने का काम किया जाएगा। एसबीआई एवं ओएनजीसी से इस संदर्भ में टाईअप हुआ है। गत वर्ष क्लब ने 11 हजार 500 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की थी और 16 हजार यूनिट रक्त एकत्र किया गया था।1022 लोगों के नैत्र ऑपरेशन किए गए।10 हजार लोगों के नैत्रों की जांच की गई। सरकारी स्कूलों में 400 स्वेटर वितरित किए गए।

अधिवेशन में दुर्घटना में घायलों के लिए ऑटो एंबुंलैंस का किराया क्लब ने वहन करने का निर्णय किया है। इस अवसर पर मुख्य अतिथि राजस्थान हाई कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश पानाचंद जैन ने कहा कि लॉयंस क्लब ने नैत्रदान के क्षेत्र में श्रेष्ठ कार्य किया है। क्लब को अपनी गतिविधियों को और अधिक बढ़ाना चाहिए। सेवा ही पूजा है इसे घ्यान रखें।

मुख्य वक्ता पूर्व प्रांत पाल बीवी माहेश्वरी ने क्लब की गतिवधियों का विस्तार से वर्णन करते हुए कहा कि रीच टू हार्ट के अंतर्गत लक्ष्यों को पूर्ण कराने के लिए दृढ़ संकल्पित रहें। लॉयंस क्लब कोटा के अध्यक्ष भागचंद हेमनानी ने बताया कि क्लब ने पर्यावरण की रक्षा के लिए 7370 वृक्ष लगाए हैं। बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ तथा सामूहिक विवाह क्लब के उल्लेखनीय कार्य रहे हैं।

सचिव दिनेश खुवाल ने अतिथियां का स्वागत करते हुए बताया कि लॉयंस क्लब ने दवा वितरण,रक्तदान तथा जरूरतमंद बच्चों की फीस जमा कराई गई। मंच पर क्षैत्रीय अध्यक्ष प्रथम सुनीता गर्ग, क्षैत्रीय अध्यक्ष द्वितीय प्रवीण जैन, क्षैत्रीय अध्यक्ष तृतीय हितेष सोनी, क्षैत्रीय अध्यक्ष राजकुमार गुप्ता भी मौजूद थे।

मंच संचालन संयोजक अशोक नुवाल एवं कार्यक्रम संचालन सुनीता माथुर ने किया। कोषाध्यक्ष अरूण गांधी ने बताया कि इस अवसर पर सर्वश्रेष्ठ क्लब का पुरस्कार कोटा लॉयंस क्लब को मिला। अन्य क्लबों के पदाधिकारियों को भी उल्लेखनीय कार्यों के लिए सम्मानित किया गया। कार्यक्रम स्थल पर गतिविधियों की फोटो प्रदर्शनी लगाई गई। लॉयन राजीव भार्गव, शोभा भार्गव एवं सोनल शर्मा आदि ने अतिथियों का स्वागत किया।