सेंसेक्स पहली बार 36000 के पार, निफ्टी 11,084 अंक पर बंद

0
5

नई दिल्ली । ग्लोबल मार्केट से मिल रहे पॉजिटिव रिस्पॉन्स की वजह से मंगलवार को भारतीय शेयर बाजार रिकॉर्ड ऊंचाई पर बंद हुए। सेंसेक्स 342 अंक की उछाल के साथ 36,140 अंक पर और निफ्टी 117 अंक बढ़कर 11,084 अंक पर बंद हुआ।

आईएमएफ ने सोमवार को कहा था कि 2018 में भारतीय इकोनॉमी दुनिया की सबसे तेज रफ्तार से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था होगी। इस खबर से मंगलवार के कारोबार में चौतरफा खरीददारी दिखी। जिससे मार्केट नई ऊंचाई पर पहुंचने में कामयाब हुआ।

कारोबार के दौरान निफ्टी पहली बार 11000 के लेवल को पार करते हुए 11,092.90 के स्तर पर पहुंचा। वहीं सेंसेक्स भी 36170.83 के हाई पहुंच गया है। सेंसेक्स सिर्फ चार कारोबारी दिनों में ही 1000 प्वाइंट्स चढ़ा है। इससे पहले 17 जनवरी को इसने 35000 की ऊंचाई को छू लिया था। 

 क्यों आई बाजार में तेजी?
– तीसरे क्वार्टर में घरेलू कंपनियों की बेहतर अर्निंग से मार्केट सेंटीमेंट्स में सुधार आया। इससे फॉरेन के साथ डोमेस्टिक इन्वेस्टर्स का इनफ्लो भारतीय शेयर में बढ़ा। इससे मार्केट में लिक्विडिटी बढ़ी है।
– हाल ही में सरकार ने चुनिंदा सेक्टर्स के प्रोडक्ट एंड सर्विसेज के जीएसटी रेट में कटौती की है। इससे इन्वेस्टर्स का भरोसा बढ़ा है।
– अमेरिकी सांसदों में शटडाउन को खत्म करने पर समझौता होने से सोमवार को अमेरिकी शेयर बाजारों में अच्छी तेजी देखने को मिली। इससे भी पॉजिटिव संकेत मिला है।
– एशियाई बाजारों में भी तेजी देखने को मिल रही है। सिंगापुर का एसजीएक्स निफ्टी इंडेक्स ने भी पहली बार 11000 के लेवल को पार किया है। एशियाई बाजारों में मजबूती से घरेलू बाजार में तेजी आई है।
– इंटरनेशनल मॉनिटेरी फंड (आईएमएफ) की वर्ल्ड इकनॉमिक आउटलुक रिपोर्ट के मुताबिक, 2018 में भारत की ग्रोथ रेट 7.4% जबकि 2019 के लिए 7.8% रहने का अनुमान है।
 
4 ट्रेडिंग सेशन में सेंसेक्स 36 हजार तक पहुंचा
– बाजार में तेजी के बीच सेंसेक्स को 36 हजार के लेवल तक पहुंचने में सिर्फ 4 दिन लगे।
– 17 जनवरी को सेंसेक्स ने पहली बार 35 हजार के लेवल पर पहुंचा था। 23 जनवरी को सेंसेक्स 36 हजार के लेवल को पार कर गया।
– 4 दिनों में सेंसेक्स में 1000 प्वाइंट्स की बढ़ोतरी हुई।
 
मिडकैप-स्मॉलकैप शेयरों में उछाल
– लार्जकैप शेयरों के साथ-साथ मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में भी अच्छी खरीददारी दिख रही है। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.70 फीसदी और स्मॉलकैप इंडेक्स 0.50 फीसदी की बढ़त के साथ कारोबार कर रहा है।
 
FII रहे खरीददार
– सोमवार के कारोबार में फॉरेन इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (एफआईआई) ने घरेलू शेयर बाजार में 1567.51 करोड़ रुपए निवेश किए। वहीं डोमेस्टिक इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (डीआईआई) ने 461.87 करोड़ रुपए की बिकवाली की।
 
अमेरिकी बाजारों में बढ़त
– सोमवार के कारोबार में अमेरिकी बाजार बढ़त के साथ बंद हुए। डाओ जोंस 143 प्वाइंट्स की उछाल के साथ 26,215 प्वाइंट्स पर बंद हुआ। एसएंडपी 500 इंडेक्स 23 प्वाइंट्स की मजबूती के साथ 2,833 प्वाइंट्स पर बंद हुआ। वहीं नैस्डैक 72 प्वाइंट्स बढ़कर 7,408 प्वाइंट्स पर बंद हुआ।
– अमेरिकी सांसदों में शटडाउन को खत्म करने पर समझौता होने शेयर बाजारों में अच्छी तेजी देखने को मिली।
 
पिछले रिकॉर्ड हाई लेवल
22 जनवरी:  सेंसेक्स 35827.70 की नई ऊंचाई पर पहुंचा। वहीं निफ्टी ने 10,975.10 के नए लेवल को छुआ।
19 जनवरी: निफ्टी ने 10900 के आंकड़े को पार करते हुए 10906.85 के लेवल पर पहुंचा। वहीं सेसेक्स भी 35542.17 प्वाइंट्स की नई ऊंचाई पर पहुंचा।
17 जनवरी: सेंसेक्स 35118.61 की नई ऊंचाई पर पहुंचा। निफ्टी ने भी पहली बार 10803 के लेवल को छुआ। 
15 जनवरी: निफ्टी 10782.65 के नए रिकॉर्ड पर पहुंचा, जबकि सेंसेक्स ने 34963.69 के लेवल को छुआ।
12 जनवरी: सेंसेक्स ने 34638.42 की नई ऊंचाई पर पहुंचा। वहीं, निफ्टी 10690.25 प्वाइंट्स तक पहुंचा।
11 जनवरी: निफ्टी ने 10664.60 का ऑलटाइम हाई बनाया था।
09 जनवरी: को सेंसेक्स ने ऊंचाई का नए लेवल 34565.63 प्वाइंट्स को छुआ।
08 जनवरी: को सेंसेक्स ने 34487.52 प्वाइंट्स का लेवल छुआ, वहीं निफ्टी 10631.20 की ऊंचाई तक गया था।
5 जनवरी: 2018 को सेंसेक्स 34175 और निफ्टी 10566.10 प्वाइंट्स तक गया था।