कोरोना के नए वैरिएंट से घबराया बाजार, निवेशकों को 7.45 लाख करोड़ की चपत

0
80

मुंबई। सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन शुक्रवार को BSE सेंसेक्स 1687.94 अंक या 2.87 फीसदी नीचे आकर 57,107.15 पर बंद हुआ। इसी तरह, निफ्टी 509.80 अंक या 2.91% गिरकर 17,026.45 पर बंद हुआ। इस गिरावट से निवेशकों को 7.45 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। इससे पहले सुबह BSE 540.3 अंकों की गिरावट के साथ 58,254.79 पर खुला। दिनभर की ट्रेडिंग के दौरान इसमें 1,801.2 अंकों की गिरावट आई। दूसरी तरफ, निफ्टी 197.5 अंक नीचे 17,338.75 पर खुला था। ये दिनभर की ट्रेडिंग के दौरान 550.55 अंक तक गिर गया था।

गिरावट के कारण
पहला कारण- नया कोविड वैरिएंट: दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस का नया वैरिएंट मिला है। वैरिएंट के सामने आने के बाद भारत सरकार के स्वास्थ्य सचिव ने निर्देश जारी किया है कि भारत आने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की सघन कोरोना जांच की जाए।
दूसरा कारण- FII सेलिंग: एनएसई के पास उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक फॉरेन पोर्टफोलियो इन्वेस्टर (FPI) ने घरेलू स्टॉक्स में 2,300.65 करोड़ रुपए की बिकवाली की है। ये बिकवाली डोमेस्टिक इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (DIIs) की खरीदारी से ज्यादा है। बिकवाली ने निवेशकों के उत्साह को भी कम कर दिया है।
तीसरा कारण- एशियन मार्केट्स से कमजोर संकेत : सभी एशियन मार्केट में भी गिरावट का रुख है, जिसका असर घरलू बाजार पर भी देखने को मिल रहा है। SGX निफ्टी, निक्केई, स्ट्रेट टाइम्स, हैंगसेंग, ताइवान वेटेड, कोस्पी, शंघाई कंपोजिट सभी में 1-2% की गिरावट है।

ऑटो शेयर में भारी गिरावट
BSE ऑटो सेक्टर में शामिल 15 में से 14 कंपनियों के शेयरों में गिरावट है। मारुति, अशोक लेलैंड, महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाटा मोटर्स और मदरसुमी मोटर्स के शेयर 4% से ज्यादा टूट चुके हैं।

11 में से 10 सेक्टोरल इंडेक्स गिरावट में
फार्मा के अलावा बाकी सभी सेक्टोरल इंडेक्स में गिरावट है। सबसे ज्यादा गिरावट रियल्टी, मीडिया और बैंकिंग स्टॉक्स में देखी जा रही है।

सेंसेक्स के 29 शेयर लाल निशान में
सेंसेक्स के 30 में से 29 शेयर लाल निशान में है। बढ़त वाले शेयरों में केवल डॉ. रेड्डीज है। सबसे ज्यादा गिरावट बजाज फिनसर्व, बजाज फाइनेंस, मारूती के स्टॉक में देखने को मिल रही है।

निवेशकों को बड़ा नुकसान
शुक्रवार को बाजार में गिरावट से निवेशकों को 7.45 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। बीएसई में सूचीबद्ध सभी कंपनियों का बाजार मूल्यांकन 2,58,31,172.25 करोड़ रुपये रहा। जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, “दक्षिण अफ्रीका में पाए गए कोविड वायरस की नई किस्म की वजह से घरेलू बाजार कमजोर वैश्विक शेयर बाजारों की तरह ही नुकसान में चले गए। मौजूदा मुद्रास्फीति की आशंकाओं के साथ-साथ अमेरिकी फेडरल रिजर्व के मौद्रिक नीति को आक्रामक तरीके से कड़ा करने की चिंताओं की वजह से भी बाजार में बड़ी गिरावट आयी।’’