कोटा के औद्योगिक विकास के लिए सभी विभाग संयुक्त रूप से प्रयास करें-मित्तल

0
805

कोटा। दी एसएसआई एसोसिएशन की ओर से गुरुवार को पुरुषार्थ भवन पर रीको, KEDL, जिला उद्योग केंद्र एवं जलदाय विभाग के साथ एक बैठक कर समस्याओं पर चर्चा की गई।

बैठक में एसोसिएशन के संस्थापक अध्यक्ष गोविंद राम मित्तल ने उद्योगों के संचालन में मूलभूत सुविधाओं की समस्याओं पर प्रकाश डालते हुए सभी विभागों से आग्रह किया कि कोटा के औद्योगिक विकास के लिए सभी विभाग संयुक्त रूप से प्रयास करें जिससे इस दिशा में आगे बढ़ा जा सके।

कोटा व्यापार महासंघ के महासचिव एवं दी एसएसआई एसोसिएशन के मुख्य सलाहकार अशोक माहेश्वरी ने केईडीएल के अधिकारियों से कहा कि औद्योगिक क्षेत्र में लगे ट्रांसफार्मर के इर्द-गिर्द भारी मात्रा में झाड़ एवं पेड़ों के बड़े होने से करंट लगने एवं फेलने का भय बना रहता है। अतः इन्हे शीघ्र कटवाया जाए।

उन्होंने बिजली बिलों में भारी विसंगतियों को दूर करने के लिए अलग से काउंटर बनाने का सुझाव दिया। माहेश्वरी ने रीको से विकास शुल्क एवं सर्विस चार्ज के बकाया की छूट खत्म वापस चालू करने की भी मांग की।

एसोसिएशन के अध्यक्ष जम्बू कुमार जैन एवं सचिव मनीष माहेश्वरी ने कहा कि जिला उद्योग केंद्र औद्योगिक सरकारी नीतियों को जन जन तक पहुंचाएं, जिससे उसकी छूट का फायदा उद्यमी ले सकें।

उन्होंने औद्योगिक क्षेत्र में लाइट, पानी का निकास, नालों की सफाई, सड़कों पर हुए गड्ढों को दुरुस्त करने की भी मांग की। निर्वाचित अध्यक्ष राजकुमार जैन एवं पूर्व अध्यक्ष देवेंद्र कुमार जैन, मुकेश गुप्ता ने विद्युत सप्लाई, क्षतिग्रस्त सड़कों की समस्या बताई।

रीको के क्षेत्रीय प्रबंधक एसके गर्ग, केईडीएल के कमर्शियल हैैड सहित सभी विभागों के अधिकारियों ने उद्यमियों द्वारा उठाई गई समस्याओं के तुरंत निदान का आश्वासन दिया।