32 साल बाद इंडियन एयरलाइन की पहली महिला CEO बनीं हरप्रीत सिंह

0
57

नई दिल्ली। महिलाएं हर सेक्टर में पुरुषों से कदम से कदम मिलाकर चल रही हैं। देश में महिला और पुरुषों के लिए समान अवसर हैं। महिलाएं आज किसी भी मायने में पुरुषों से कम नहीं हैं और इसका बेहतर उदाहरण है हरप्रीत सिंह। इंडियन एयरलाइन इंडस्ट्री में हरप्रीत ने इतिहास रच दिया है।

हरप्रीत सिंह को एअर इंडिया की सब्सिडियरी एयरलाइन अलायंस एयर का सीईओ नियुक्त किया गया है। इंडियन एविएशन के लिए यह पहला मामला है जब किसी महिला को सीईओ नियुक्त किया गया है। हरप्रीत वर्तमान में एअर इंडिया की एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर (फ्लाइट सेफ्टी) हैं।

एआई की नई एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर निवेदिता भसीन होंगी
उधर, अब एअर इंडिया की नई एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर कैप्टन निवेदिता भसीन होंगी, जो वरिष्ठ कमांडरों में से एक हैं और वर्तमान में ड्रीमलाइनर बोइंग 787 चलाती हैं। एआई के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक राजीव बंसल ने एक आदेश जारी करते हुए कहा कि हरप्रीत सिंह अगले आदेश तक एलायंस एयर के सीईओ का पद संभालेंगी। इसके अलाव कैप्टन निवेदिता भसीन को उनके अनुभव को देखते हुए कई अन्य विभागों का प्रमुख बनाया गया है।

जानिए हरप्रीत सिंह के बारे में ?
देश की पहली महिला पायलट हैं हरप्रीत सिंह। सिंह साल 1988 में एअर इंडिया द्वारा चयनित हुई थीं। हालांकि हेल्थ इश्यू के कारण वह उड़ान नहीं भर सकीं। सिंह फ्लाइट सेफ्टी के सेक्टर में काफी एक्टिव रही हैं। उन्होंने भारतीय महिला पायलट एसोसिएशन का नेतृत्व किया है। एअर इंडिया ने साल 1980 के दशक की शुरुआत में महिला पायलटों को नियुक्त की थी और इसके साथ ही कंपनी ऐसा करने वाली पहली भारतीय एयरलाइन बन गई थी।

अलायंस एयर सरकारी कंपनी ही रहेगी
बता दें कि अलायंस एयर को एअर इंडिया के साथ नहीं बेचा जा रहा है। एअर इंडिया की सब्सिडियरी एयरलाइन अलायंस एयर इस डील में शामिल नहीं है। अलायंस एयर सरकारी कंपनी ही रहेगी। अगर कंपनी को कोई खरीदार मिलता है और उसका निजीकरण किया जाता है, तो एअर इंडिया की पुराने बोइंग 747 को एलायंस एयर में स्थानांतरित किया जाएगा, जिसके पास वर्तमान में टर्बोप्रॉप का एक बेड़ा है।