लोकसभा स्पीकर बिरला ने बनाया रिकॉर्ड, प्रश्नकाल के एक दिन में लिए 10 सवाल

0
1188

कोटा। लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने पहले ही सप्ताह में एक रिकॉर्ड कायम किया है। पहली बार किसी एक दिन में प्रश्नकाल में 10 सवाल लिए गए हैं, जबकि आम तौर पर प्रश्नकाल का औसत 4 से 5 सवाल तक रहता था। असल में लोकसभा की कार्यवाही के दौरान दोपहर में एक घंटा प्रश्नकाल के लिए होता है, जिसमें सांसद सीधे मंत्रियों से सवाल करते हैं और सदन में ही मंत्री उनके जवाब देते हैं।

एक घंटे में अब तक अधिकतम 4 से 5 सवाल लिए जाते थे और इतने ही सवालों के जवाब मंत्री दे पाते थे। लेकिन, सोमवार को नया रिकॉर्ड बना और 10 सवाल लिए जा सके। इसकी वजह यह रही कि स्पीकर ने पहले दिन ही सभी सांसदों को आग्रह कर दिया था कि वे सीधे सवाल करें और मंत्री सीधे जवाब दें।

आम तौर पर सवाल पूछने से पहले सांसद लंबी भूमिका बांधने लगते थे और ऐसा ही जवाब देने में भी होता था। इस तरह मुद्दे से ज्यादा समय दूसरी बातों पर खत्म हो जाता था। लोकसभा के अधिकारी खुद इस बात को मान रहे हैं कि किसी एक प्रश्नकाल में 10 सवाल अब तक कभी नहीं लिए गए, यह सोमवार को ही संभव हो सका। यदि यही रफ्तार रही तो लोकसभा की कार्यवाही का सबसे महत्वपूर्ण प्रश्नकाल और ज्यादा प्रभावी होगी और ज्यादा सांसद अपने सवालों के जवाब ले पाएंगे।

6 जुलाई को कोटा आ सकते हैं स्पीकर बिरला : लोकसभा स्पीकर ओम बिरला 6 जुलाई को कोटा आ सकते हैं। अभी उनका अधिकृत कार्यक्रम तय नहीं हुआ है, लेकिन माना जा रहा है कि 5 जुलाई को बजट पेश होने के बाद वे 6 जुलाई को कोटा आ जाएंगे। सूत्रों ने बताया कि वे हवाई मार्ग से पहले जयपुर आएंगे और वहां से सड़क मार्ग से कोटा पहुंचेंगे।