अन्तर्राज्यीय एटीएम क्लोन गिरोह पकड़ा, हवाई यात्रा कर पहुंचते थे ठगी करने

0
357

टोंक। जिले की सदर थाना पुलिस ने एटीएम क्लोन कर ठगी करने वाली अंतरराज्यीय गिरोह का पर्दाफाश कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। अभियुक्तों से कई फर्जी एटीएम कार्ड और लग्जरी गाड़ी बरामद की गई है। आरोपी विभिन्न राज्यों में एटीएम क्लोन करने की वारदातों को अंजाम देने के लिए महंगी लक्जरी गाड़ी व हवाई यात्रा का उपयोग कर शहरों में पहुंचते थे।

महानिरीक्षक पुलिस अजमेर रेंज संजीब नार्जरी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी संदीप कुमार नायक (27), संदीप उर्फ जल्ला सांसी (19) एवं सोनू सांसी (24) है। ये तीनों हरियाणा के रहने वाले है। इनके कब्जे से कई फर्जी एटीएम कार्ड बरामद हुए है। इनके कब्जे से एक्सयूवी कार को जप्त की गई है।

यह तीनों राजस्थान में चूरू, झून्झूनू, सीकर, नागौर ,अजमेर, जयपुर, बून्दी, कोटा, उदयपुर, बांसवाडा व आन्ध्रप्रदेश, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, उड़ीसा, उत्तरप्रदेश में एटीएम क्लोन व एटीएम बदलने की कई वारदातों कर चुके है। इसके लिए ये तीनों लग्जरी कार किराए पर लेकर या हवाई यात्रा कर ठगी करने शहरों में पहुंचते है।

पुलिस अधीक्षक चूनाराम जाट ने बताया कि ये आरोपी काफी शातिर तरीके से एटीएम में जाकर एटीएम से पैसा निकालते समय मोबाईल से एटीएम का वीडियो बनाकर एटीएम नम्बर व पासवर्ड चुरा लेते है। जिससे दूसरा एटीएम तैयार कर अन्य राज्यों में जाकर पैसा निकालते है। जब एटीएम की लिमिट पूरी हो जाती है।

अन्य खातों में राशि का ट्रांसफर कर एटीएम से राशि निकाल लेते है व एटीएम में किसी बुजूर्ग या जो एटीएम के बारे में नही समझते है। उनसे मदद के बहाने एटीएम लेकर एटीएम को बदल लेते है व दूसरा एटीएम दे देते है व ऐसे एटीएम का चयन करते है जिसमें भीड़भाड़ ज्यादा हो और सुरक्षा गार्ड नही होंता है।

आईजी नार्जरी ने बताया कि एटीएम क्लोनिंग कर ठगी करने की घटनाओं के खुलासा व आरोपियों की धरपकड़ के लिए टोंक एसपी चूनाराम जाट के निर्देशन में एएसपी पुष्पेन्द्र सिंह शेखावत, सीओ टोंक रामकल्याण मीणा के नेतृत्व में थानाधिकारी सदर नेमीचन्द के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया था। जिन्होंने सायबर तकनीक के आधार पर इस गैंग का खुलासा किया।