गुपकार गठबंधन के नेता देश को लूटकर लंदन में ऐश करते हैं: जीडी बख्शी

0
165

मुंबई। जम्मू कश्मीर में डीडीसी यानि जिला विकास परिषद के चुनाव होने हैं और ऐसी खबरें आ रही है कि कांग्रेस पार्टी इस चुनाव में गुपकार गठबंधन के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी। गुपकार गठबंधन पीडीपी, नेशनल कांफ्रेंस आदि पार्टियों का एक गठबंधन है जो जम्मू कश्मीर में दोबारा धारा 370 को लागू करने की मांग कर रहीं हैं।

कांग्रेस के इस गठबंधन में जाने को लेकर भाजपा लगातार कांग्रेस पर हमलावर है। रिपब्लिक टीवी के डिबेट शो ‘पूछता है भारत’ पर अर्नब गोस्वामी पर कांग्रेस पर खूब हमले कर रहे हैं। उनका कहना है कि कांग्रेस गुपकार का हिस्सा होने से इंकार कर रही है फिर वो उन्हीं के साथ मिलकर चुनाव भी लड़ने जा रही है। अर्नब ने कहा कि यह रिश्ता क्या कहलाता है।

पैनल में मौजूद रिटायर्ड मेजर जनरल जीडी बख्शी ने पैनलिस्ट इरफान हफीज (कश्मीरी वकील) को आड़े हाथों लेते हुए कहा, ‘मुफ्तखोरी की लत बहुत बुरी लत होती है। इन्हीं लोगों (उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती) ने कहा था कि जब तक 370 नहीं हटाया जाएगा, ये इलेक्शन में हिस्सा नहीं लेंगे। लेकिन 70 साल केंद्र सरकार को लूटने के बाद जो भी पैसा कश्मीर के लोगों के लिए भेजा गया था, उस पैसों से उन्होंने लंदन में ऐश किया। अब वो पैसा ख़त्म हो गया है और उन्हें पैसा चाहिए।’

रिटायर्ड मेजर ने आगे कहा, ‘मुफ्तखोरों को मुफ्तखोरी की लत लग गई है। ये लोगों को फिर से बेवकूफ बनाना चाहते हैं। पहले तो ये चीन की दुहाई देते थे फिर जब चीन की बत्ती बुझ गई और उसने पाकिस्तान को लड़ाने के लिए आगे कर दिया। पाकिस्तान को दबाकर मार पड़ी। अब इन्हें समझ आ गया कि अब न चीन आएगा न पाकिस्तान अब पैसे के लिए चुनाव तो लड़ना होगा।’ पैनल में मौजूद राजनीतिक विश्लेषक सैयद फ़ज़ल कशानी ने कहा कि बीजेपी ने भी तो पीडीपी के साथ मिलकर सरकार बनाई थी।

जवाब में रिटायर्ड मेजर ग़ौरव आर्या ने कहा, ‘बीजेपी ने जब पीडीपी के साथ गठबंधन किया था तब बीजेपी ने यह नहीं कहा था कि हम उनके साथ गठबंधन नहीं कर थे और चुपचाप चुनाव लड़ लिया। बीजेपी ने ये नहीं किया। बीजेपी ने जो किया वो सबके सामने किया। जब सांप सामने होता है तो खतरा नहीं होता। लेकिन आप लोग जो बोल रहे हैं कि हम साथ नहीं हैं और पीठ पीछे चुनाव लड़ रहे हैं, लोगों को बेवकूफ बना रहे हैं।’