भारतीय मूल के अभिजीत बनर्जी और उनकी पत्नी को अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार

0
108

नई दिल्ली।अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार इस साल भारतीय मूल के अभिजीत बनर्जी और उनके दो साझेदारों को मिला। उनके साझेदारों में उनकी पत्नी एस्थर डुफ्लो और एक अन्य अर्थशास्त्री माइकेल क्रेमर शामिल हैं। पुरस्कार की घोषणा सोमवार को हुई। बनर्जी फिलहाल अमेरिका के मैसाचुसेट‌स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआईटी) में अर्थशास्त्र के फोर्ड फाउंडेशन इंटरनेशनल प्रोफेसर हैं।

बनर्जी का जन्म मुंबई में 1961 में हुआ था। उन्हें वैश्विक गरीब को दूर करने में उनके प्रायोगिक नजरिए के लिए नोबेल पुरस्कार दिया गया है। 58 वर्षीय अर्थशास्त्री ने हार्वर्ड विश्वविद्यालय से 1988 में पीएचडी हासिल की थी। उन्होंने कलकत्ता विश्वविद्यालय और दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में भी पढ़ाई की थी।