राजस्थान से उठे पर्यावरण संरक्षण की आवाज : ओम बिरला

0
572

कोटा। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने रविवार को कहा कि पर्यावरण संरक्षण के लिए अब जन चेतना और जन जागृति के लिए जन आंदोलन चलाया जाना चाहिए। पर्यावरण सन्तुलन और पर्यावरण शुद्धता के लिए पूरी दुनिया चिंतित है। भारत एक ऐसी संस्कृति वाला देश है जहां वृक्षों की भी पूजा होती है। राजस्थान वीरों और बलिदानों की धरती है। यहां से पर्यारण संरक्षण और पर्यारण शुद्धता की आवाज उठनी चाहिए।

वे दशहरा मैदान के विजयश्री रंगमंच पर शहर की जनता से रूबरू हो रहे थे। बिरला ने पर्यावरण असन्तुलन पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि पर्यावरण संरक्षण को अब जनांदोलन बनाने की जरूरत है। हर व्यक्ति पौधे लगाएं और उनकी पूरी देखभाल करें।

नगर निगम की ओर से आयोजित पौधारोपण कार्यक्रम के मुख्य अतिथि लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि मेरा शहर हरा-भरा और सबसे स्वच्छ शहर बने। इसके लिए जनभागीदार से सघन पौधारोपण करने की जरूरत है। मेरा शहर देश का सबसे हरा-भरा बने इसके लिए जनसहभागिता से प्रयास किए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि आज स्टेशन से आ रहा था तो मुझे लग रहा कि शहर को हरा-भरा करने के प्रयासों को और बढ़ाने की जरूरत है। शहर में अधिक से अधिक पौधे लगाए और उनकी देखाभाल करें। पौधे लगेंगे तो शहर प्रदूषण मुक्त बन सकेगा।

हर घर में पहुंचेगा शुद्ध जल
लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि सरकार की मंशा है कि देश के प्रत्येक व्यक्ति को शुद्ध पानी मिले। हर घर में नल से शुद्ध पानी पहुंचे। इस दिशा में काम शुरू हो गया है। सरकार के साथ हमें भी भूमिगत जल व वर्षाजल को बचाने और संचय करने का संकल्प लेना होगा।

दुनिया में कोटा का नाम कर रहे रोशन
महापौर महेश विजय ने कहा कि बिरला कोटा की खान से निकला ऐसा सितारा है जो आज देश ही नहीं बल्कि दुनिया में कोटा का नाम रोशन कर रहे हैं।

कार्यक्रम में उप महापौर सुनीता व्यास, पूर्व मंत्री प्रभूलाल सैनी, विधायक संदीप शर्मा, कल्पना देवी, मदन दिलवार, प्रतिपक्ष नेता अनिल सुवालका, भाजपा के शहर अध्यक्ष हेमंत विजयवर्गीय ने लोकसभा अध्यक्ष बिरला का फूलों का हार पहनाकर अभिनंदन किया।