कोचिंग नगरी अब देश की सुरक्षा के लिए जवान भी तैयार करेगी

0
780

कोटा। देशभर में सर्वाधिक डॉक्टर्स व इंजीनियर देने वाली कोचिंग नगरी अब देश सेवा के साथ देश की सुरक्षा के लिए भी जवान तैयार करेगी । डकनिया रोड स्थित एस.आर.पब्लिक स्कूल में प्राइवेट मिलिट्री पैटर्न विंग शुरू हो गई है। विंग का शुभारंभ चेयरमैन आनंद राठी द्वारा किया गया । यह विंग छत्तीसगढ़ के मेजर प्रवीण सिंह के दिशा-निर्देशन में चलाई जाएगी।

मेजर प्रवीण सिंह ने बताया कि वीरगति को प्राप्त होने वाले सैनिक परिजनों के बच्चों को इस स्कूल में निशुल्क शिक्षा, रहने के लिए निशुल्क आवास की भी व्यवस्था करवाई जाएगी। साथ ही आर्मी फोर्स में कार्यरत कर्मचारियों के बच्चों को फीस में आकर्षक छूट का ऑफर दिया जाएगा। स्कूल में स्विमिंग पूल, घुड़सवारी, पिस्टल शूटिंग एवं पहाड़ों पर ट्रेकिंग आदि का भी प्रशिक्षण दिया जाएगा।

इससे पूर्व मेजर प्रवीण सिंह गोंदिया, महाराष्ट्र व छत्तीसगढ़ के प्राइवेट मिलिटी पैटर्न स्कूल के कमांडेंट रह चुके है। उन्होंने बताया कि प्राइवेट मिलिट्री पैटर्न स्कूल का मूल उद्देश्य छात्रों को बचपन से ही खेलकूद और पढ़ाई को बराबर प्राथमिकता देने के साथ देशसेवा के लिए तैयार करना है। मेजर के अनुसार सैनिक स्कूल प्रदेश में एक होता है और प्राइवेट मिलिट्री पैटर्न स्कूल ऐसे विद्यार्थियों के लिए है जो सैनिक स्कूल परीक्षा में कम सीट होने के कारण उस सपने से वंचित रह जाते है।

स्कूल के चैयरमेन आनंद राठी ने बताया कि बच्चों को सैनिक स्कूल की तर्ज पर पढ़ाई के साथ-साथ उन्हें शारीरिक विकास, मानसिक विकास, अनुशासन और कल्चरल एक्टीविटी में भी निपुण बनाया जाएगा। स्कूल में कक्षा 1 से 12वीं तक बालक-बालिकाओं के लिए प्रवेश प्रारंभ है। कक्षा एक से पांच डे बोर्डिंग एवं कक्षा 6 से 12वीं तक रेजिडेंशियल होगा, जिसमें पूरा हॉस्टल एयर कंडीशनर है।

प्रोग्राम प्रशासनिक अधिकारी गणेश गौड ने बताया की सैनिक स्कूल खोले जाना इस क्षेत्र के लिए अभिनव प्रयोग है। यह विद्यालय सशक्त शिक्षित समाज के निर्माण में महती भूमिका निभा सकता है । उन्होंने उम्मीद जतायी कि इस संस्थान के प्रबंधन करियर निर्माण के साथ बच्चों में अनुशासन व सुसंस्कार भरने में कामयाबी पाये।