PUBG के लिए एक बच्ची की मां पति को छोड़ने को तैयार

    0
    440

    अहमदाबाद । पबजी मोबाइल गेम के बारे में तो आप जानते ही होंगे। पबजी (PUBG) प्लेयर अननोन बैटलग्राउंड (पबजी) दीवानगी के बारे में आपको बताने की जरूरत नहीं है। पबजी गेम के कारण भारत अभी तक 10 से अधिक घटनाएं हो चुकी हैं और अभी तक 16 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया चुका है।

    खास बात यह है कि जिस गुजरात में डीएम की मनाही के बाद पबजी खेलने पर 16 लोगों की गिरफ्तारी हुई थी, उसी गुजरात में पबजी की दीवानगी में एक महिला ने अपने पति से तलाक मांगा है। यह अपने आप में शायद पहला मामला होगा जब पबजी के कारण किसी का रिश्ता टूटेगा। दरअसल अहमदाबाद में रहने वाली एक 19 साल की महिला को अपने पति से तलाक चाहिए। महिला एक साल से भी कम उम्र की बच्ची की मां है।

    इसके लिए महिला ने राज्य की महिला हेल्पलाइन अभयम 181 पर फोन किया है। महिला ने पति से तलाक मांगने और अपने पबजी गेमिंग पार्टनर के साथ रहने की इच्छा जाहिर की है।
    यह अपने आप में शायद पहला मामला होगा जब पबजी के कारण किसी का रिश्ता टूटेगा। दरअसल अहमदाबाद में रहने वाली एक 19 साल की महिला को अपने पति से तलाक चाहिए।

    महिला एक साल से भी कम उम्र की बच्ची की मां है। इसके लिए महिला ने राज्य की महिला हेल्पलाइन अभयम 181 पर फोन किया है। महिला ने पति से तलाक मांगने और अपने पबजी गेमिंग पार्टनर के साथ रहने की इच्छा जाहिर की है।

    महिला के बयान के अनुसार वह कुछ महीने पहले ही पबजी की आदी हुई है और घंटों पबजी खेलती है। पबजी खेलने के दौरान ही उसे शहर के एक लड़के प्यार हो गया है और दोनों मिलकर पबजी खेलते हैं। दोनों गेमिंग के दौरान चैटिंग भी करते हैं।

    महिला की काउंसिलिंग करने वाली सोनल संगठिया ने इस मामले पर कहा कि लड़की ने पति से तलाक के लिए अभयम में फोन किया था। उसके इस कदम का पिता ने समर्थन नहीं किया।
    उन्होंने बताया, ‘उसका मामला सुनने के बाद, जब हमने उससे पूछा कि क्या उसका पति से कोई विवाद है तो उसने इससे इनकार कर दिया।

    उसका कहना है कि वह उस युवक के साथ रहना चाहती है जिससे वह नियमित तौर पर चैट करती है। साथी पबजी खिलाड़ी के साथ उसकी बढ़ती निकटता के परिणामस्वरूप जोड़े में लड़ाई होने लगी। जिसके बाद उसने पति का घर छोड़ दिया और अपने पिता के यहां रहने आ गई।’ काउंसलर की टीम ने 19 साल की महिला को अपनी बच्ची की परवरिश और उसके भविष्य का ख्याल रखते हुए एक बार फिर से अपने फैसले पर विचार करने के लिए कहा है।

    उसने पहले इच्छा जताई कि उसे अस्थायी तौर पर एक महिला के साथ रहने दिया जाए जब तक कि उसका तलाक नहीं हो जाता। इसके बाद वह युवक के साथ रहना चाहती है।काउंसलर ने कहा, ‘वह चाहती थी कि यदि उसके पिता विरोध करें तो हेल्पलाइन के अधिकारी उसे युवक के पास ले जाएं।

    हमने उससे वादा किया कि हम उसके परिवार और पति से बात करेंगे लेकिन वह जल्दबाजी में कोई कदम नहीं उठाएगी।’ उसे पबजी की आदत छोड़ने के लिए मनोवैज्ञानिक मदद लेने के लिए कहा गया है।