घर बैठे होगा आधार कार्ड डाउनलोड; दफ्तरों के चक्कर से बचेंगे, जानिए कैसे

0
128

नई दिल्ली। भारत में आज के समय में आधार कार्ड (Aadhaar Card) अनिवार्य हो गया है। सरकारी से लेकर निजी कार्यों तक में आधार की जरूरत पड़ती है। चाहे आपको सिम कार्ड खरीदना हो या फिर बैंक में अकाउंट खुलवाना हो, इन सभी के लिए आधार की जरूरत पड़ती है। यहां तक बहुत-सी ऐसी सरकारी योजनाएं हैं, जिनका लाभ लेने के लिए आधार अनिवार्य है।

आधार कार्ड को पहचान के तौर पर भी इस्तेमाल किया जा सकता है। अगर आपके आधार कार्ड में किसी प्रकार की त्रुटि होगी तो उसके चलते आपके जरूरी काम अटक सकते हैं। अगर आप भी इसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं और आधार ऑफिस जाने से कतरा रहे हैं तो हम आपको घर बैठे ही आपकी समस्या का समाधान बता रहे हैं।

आधार अपडेट करना हो या फिर Aadhaar से जुड़ा कोई अन्य जरूरी काम करना हो यह सब घर बैठे किया जा सकता है। इसके लिए केवल स्मार्टफोन की ही जरुरत होती है। इस तरह की सुविधा का लाभ उठाने के लिए आपको अपने फोन में mAadhaar App को डाउनलोड करनी होगी। वहीं, अगर आपके स्मार्टफोन में पहले से ही mAadhaar App है तो आप उसका नया वर्जन डाउनलोड कर सकते हैं।

हाल ही में UIDAI ने mAadhaar App का नया वर्जन पेश किया है, जिससे आप कई सुविधाओं का लाभ ले सकते हैं। अगर आप यह ऐप डाउनलोड करेंगे तो आपको यह ध्यान देना है कि आप कोई फेक ऐप डाउनलोड न कर लें। ऐसे में आपको UIDAI द्वारा जारी लिंक्स के जरिए ही ऑफिशियल ऐप को डाउनलोड करना चाहिए।

mAadhaar App के फायदे कुछ इस प्रकार हैं:

  • mAadhaar ऐप के जरिए आप अपने फोन में आधार की कॉपी को डाउनलोड कर सुरक्षित रख सकते हैं।
  • mAadhaar ऐप के जरिए आप Aadhaar री-प्रिंट ऑप्शन का भी लाभ उठा सकते हैं।
  • इस ऐप के जरिए आप जरूरत होने पर ऑफलाइन मोड में आधार दिखा सकते हैं। एक प्रकार से यह पहचान पत्र के तौर पर काम करेगा और जरूरत के वक्त आपके बहुत काम आएगा, जिससे आपके हमेशा आधार की फिजिकल कॉपी लेकर जाने की जरूरत नहीं है।
  • इस ऐप के जरिए बिना किसी दस्तावेज के आधार में पता भी अपडेट किया जा सकता है।
  • इस ऐप में सिर्फ अकेले खुद को ही नहीं बल्कि परिवार के 5 सदस्यों के आधार भी रखे जा सकते हैं, जिनको आप एक साथ मैनेज कर सकते हैं।
  • इस ऐप के जरिए आधार कार्ड धारक अपने UID या आधार नंबर को कभी-भी लॉक या अनलॉक कर सकते हैं।
  • सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह फीचर इस ऐप में दिया गया है, क्योंकि आधार से बायोमेट्रिक डाटा जुड़ा है जो कि काफी जरूरी होता है। इस ऐप में दिया गया बायोमैट्रिक लॉकिंग सिस्टम इनेबल करने पर आधार लॉक हो जाता है और जब तक आप अनलॉक नहीं करते हैं तब तक उसका इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे।
  • इस ऐप के जरिए QR कोड और EKYC डाटा को शेयर किया जा सकता है।
  • जरूरत होने पर सरकारी कार्यों में पेपरलेस वेरिफिकेशन के दौरान मदद मिल सकती है।
  • पासवर्ड से सुरक्षित E-KYC और QR कोड भेजा जा सकता है।
  • इस ऐप के जरिए आप आसानी से नजदीकी आधार एनरोलमेंट सेंटर की जानकारी पता कर सकते हैं।